netherland vs south africa
अलविदा 2022: इस साल के 7 सबसे यादगार मैच, जिसने बनाई फैंस के दिल में जगह

एक शानदार और अप्रत्याशित यादों के साथ साल 2022 अलविदा (Bye Bye 2022) कहने जा रहा है। इस साल क्रिकेट के गलियारों में कुछ खट्टी तो कुछ मीठी यादें रहीं, जिसमें कुछ ऐसे पल रहे, जिसने दर्शकों के जेहन में ऐसी जगह बनाई, जो सालों तक बनी रहेगी, जिसमें इस साल कई बेहतरीन मैच खेले गए। तीनों ही फॉर्मेट में मिलाकर इस साल कुछ ऐसे मैच देखने को मिले, जिसमें रोमांच अपने चरम पर रहा, जहां आखिर तक किसी एक जीत की भविष्यवाणी नहीं की जा सकती थी, लेकिन ऐसे परिणाम हाथ लगे, जिसने हैरान कर दिया। आज आपको बताते हैं इस साल के वो बेस्ट मैच, जिसमें दिखा दिलचस्प परिणाम-

यह भी पढ़ें | टॉप-5 खिलाड़ी, IPL में जिनके नाम हैं सबसे ज्यादा रन आउट

  1. इंग्लैंड की टीम इंडिया पर धमाकेदार टेस्ट जीत

भारतीय क्रिकेट टीम साल 2021 में इंग्लैंड के दौरे गई थी, जहां दोनों ही टीमों के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जानी थी, लेकिन टीम इंडिया वहां पर 4 मैचों की ही टेस्ट सीरीज खेलने के बाद कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण लौट आई। इस सीरीज का बचा एक टेस्ट मैच 2022 में खेला गया। आईपीएल के बाद टीम इंडिया एक बार फिर से इस बचे टेस्ट मैच को खेलने इंग्लैंड पहुंची, लेकिन यहां मेजबान टीम ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। बेन स्टोक्स की कप्तानी में इंग्लिश टीम ने भारत पर ऐतिहासिक जीत हासिल की। बर्मिंघम में खेले गए इस रिशेड्यूल टेस्ट मैच में भारत ने पहली पारी में 416 रन का स्कोर खड़ा कर दिया। जिसके जवाब में इंग्लैंड को पहली पारी में केवल 284 रन पर ही ढ़ेर कर दिया। टीम इंडिया को 132 रनों की अहम बढ़त मिली। जिसके बाद दूसरी पारी में भारत 245 रन पर आउट हो गई, लेकिन इंग्लैंड को 378 रनों का टारगेट दिया, जो असंभव दिख रहा था। इंग्लिश टीम ने बहुत ही जबरदस्त बल्लेबाजी की। जो रूट के नॉटआउट 142 रन और जॉनी बेयरेस्टो के 114 रन की नाबाद पारी की मदद से इस लक्ष्य को 3 विकेट खोकर ही हासिल कर धमाकेदार जीत हासिल की।

  1. जॉनी बेयरेस्टो के तूफानी शतक ने इंग्लैंड को दिलाई तूफानी जीत

साल 2022 इंग्लैंड के स्टार बल्लेबाज जॉनी बेयरेस्टो के लिए कुछ अलग ही साबित हुआ। इस साल तो टेस्ट क्रिकेट में जॉनी बेयरेस्टो मानों गेंदबाजों का काल बनकर निकले उन्होंने एक के बाद एक शानदार पारियां खेली, जिसमें न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 मैचों की घरेलू टेस्ट मैचों की सीरीज में दूसरे टेस्ट मैच में खेली गई पारी को कोई नहीं भूल सकता। नॉटिंघम में खेले गए इस मैच में पहली पारी में तो न्यूजीलैंड ने 553 रन बनाए, जवाब में इंग्लैंड भी 539 रन बनाने में कामयाब रही, यहां तक तो मुकाबला बराबरी पर था, दूसरी पारी में कीवी टीम 284 रन पर आउट हुई, लेकिन करीब 70 ओवर में 299 रन का टारगेट सेट किया, जो इस पिच पर बिल्कुल भी आसान नहीं था। इंग्लैंड के मंसूबे कुछ और ही थे, उन्होंने जॉनी बेयरेस्टो के 92 गेंद 136 रन और कप्तान बेन स्टोक्स के 70 गेंद 75 रनों की पारी की मदद से 5 विकेट पर केवल 50 ओवर में लक्ष्य को हासिल कर इस साल की सबसे सनसनीखेज जीत दर्ज की।

  1. टी20 विश्व कप में भारत की पाकिस्तान पर रोमांचक जीत

टीम इंडिया ने आईसीसी इवेंट में एक बार फिर से पाकिस्तान को पछाड़ दिया। भले ही भारतीय टीम को 2021 में पहली बार किसी विश्व कप में पाकिस्तान से हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन ऑस्ट्रेलिया में खेले गए इस बार के विश्व कप में पाकिस्तान को भारत ने बेहद रोमांचक मैच में मात दी। इस मैच में पाकिस्तान ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 8 विकेट पर 159 रन बनाए थे। मैच जबरदस्त रोमांचक रहा, जहां मैन इन ब्ल्यू ने अंतिम गेंद पर लक्ष्य का पीछा करते हुए 4 विकेट से जीत हासिल की। आखिरी ओवर में भारत को 16 रनों की जरूरत थी, जिसे विराट के दमदार प्रदर्शन से हासिल कर लिया। कोहली ने यादगार पारी खेलते हुए 53 गेंदों में नाबाद 82 रन बनाए।

  1. आखिरी ओवर में ब्रेसवेल ने 20 रन लेकर दिलाई थी वनडे में न्यूजीलैंड को जीत

न्यूजीलैंड के लिए इस साल युवा क्रिकेटर माइकल ब्रेसवेल ने काफी शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने इस एक यादगार पारी खेली थी, जो वनडे क्रिकेट के बेस्ट मैचों में से एक साबित हुआ। न्यूजीलैंड और आयरलैंड के बीच एक वनडे मैच खेला गया था, जिसमें आयरिश टीम ने पहले खेलते हुए 50 ओवर में 300 रनों का स्कोर खड़ा किया था। जिसके बाद न्यूजीलैंड ने इस मैच में 120 रन पर ही आधी टीम खो दी। न्यूजीलैंड के लिए मैच बचाना मुश्किल था, लेकिन युवा बल्लेबाज माइकल ब्रेसवेल ने यादगार पारी खेली। उन्होंने 82 गेंद में 127 रन नाबाद बनाकर न्यूजीलैंड को जीत दिलायी। सबसे खास बात ये रही कि अंतिम ओवर में कीवी टीम को 20 रनों की जरूरत थी, और 9 विकेट खो दिए थे, लेकिन ब्रेसवेल ने इस अंतिम ओवर के 5 गेंद में ही 24 रन बटोर कर ऐतिहासिक जीत दिलायी।

  1. टी20 विश्व कप में नीदरलैंड ने दक्षिण अफ्रीका को हराकर कर दिया बाहर

विश्व क्रिकेट में दक्षिण अफ्रीका की टीम पर चोकर्स का ठप्पा सालों से कामय है। जो इस बार टी20 विश्व कप में भी जारी रहा। प्रोटीयाज टीम इस विश्व कप में जबरदस्त प्रदर्शन कर रही थी, जिनका अंतिम लीग मैच नीदरलैंड के साथ खेला गया। इस मैच में उनकी जीत की उम्मीद की जा रही थी। जिसमें वो जीत के साथ ही सेमीफाइनल में प्रवेश करने वाले थे, लेकिन यहां डच टीम ने उन्हें झटका दे दिया। नीदरलैंड ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 158 रन का स्कोर खड़ा किया। फॉर्म में दिख रही दक्षिण अफ्रीका के लिए ये मुश्किल नहीं था, लेकिन वो फिर से चोकर्स का ठप्पा अपने से हटा नहीं सके और निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट पर 145 रन ही बना सके और 13 रन से मैच हार गए।

  1. इंग्लैंड की पाकिस्तान पर टेस्ट मैच में रोचक जीत

साल के आखिरी तक मैचों में रोमांच बना रहा। जहां इंग्लैंड की टीम ने पाकिस्तान की सरजमीं पर एक ऐसा टेस्ट मैच अपने नाम किया, जो आखिर तक किस करवट बैठेगा इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सका। मुल्तान में खेले गए इस टेस्ट मैच को चौथे दिन इंग्लैंड ने केवल 26 रन से अपने नाम किया। इस मैच में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 281 रन बनाए जिसके जवाब में मेजबान टीम केवल 202 रन पर ही सिमट गई। इसके बाद इंग्लिश टीम ने दूसरी पारी में 275 रन बनाए और पाक के सामने 355 रन का टारगेट सेट किया। मैच में पाकिस्तान के पास काफी वक्त बचा हुआ था, चौथे दिन एक समय ये टीम 5 विकेट पर 290 रन बना चुकी थी, जहां से उनकी जीत नजर आने लगी थी, लेकिन इंग्लैंड ने इसके बाद जोरदार वापसी करते हुए 38 रन के भीतर ही अगले 5 विकेट झटके और 328 रन पर ऑलआउट करने के साथ ही 26 रनों की रोमांचक जीत हासिल की।

  1. ऑस्ट्रेलिया-श्रीलंका के बीच टाई मैच

इस साल टी20 विश्व कप के कारण लगभग सभी प्रमुख टीमों ने ज्यादातर टी20 मैच ही खेले हैं। इसमें लंबी-लंबी बाइलेट्रल सीरीज खेली गई, जिसमें श्रीलंका की टीम ने भी विश्व कप से पहले ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था। 5 मैचों की इस टी20 सीरीज का सिडनी में खेला गया दूसरा मैच काफी यादगार रहा। इस मैच में मेजबान कंगारू टीम ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 6 विकेट पर 164 रन बनाए। इसके बाद श्रीलंका की टीम 25 रन पर ही 3 विकेट खो चुकी थी और 16.2 ओवर में 115 रन तक 6 विकेट गंवा दिए। अंतिम 22 गेंद में 50 रनों की जरूरत थी, जो काफी मुश्किल था, लेकिन कप्तान दासुन शनाका ने तेज तर्रार पारी खेल लंकाई टीम को लगभग जीत के करीब पहुंचा ही दिया था, आखिर में श्रीलंका ने 8 विकेट पर ऑस्ट्रेलिया के स्कोर की बराबरी कर मैच को टाई कर दिया। लेकिन सुपर ओवर में ऑस्ट्रेलिया ने जीत हासिल कर ली।

Leave a comment

Cancel reply