भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी और सिलेक्‍शन समिति के चेयरमैन रह चुके संदीप पाटिल कहना है कि इस वक्‍त खिलाड़ी केवल खुद को आईपीएल के लिए बचा कर रखना चाहते हैं।

टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान संदीप पाटिल ने कहा, “चार दिवसीय घरेलू क्रिकेट का महत्‍व काफी तेजी से नीचे कम हो गया है। बड़े खिलाड़ियों के नहीं खेलने के कारण घरेलू क्रिकेट को काफी नुकसान हो रहा है। हमारे समय में ईरानी और दिलीप ट्रॉफी में प्रदर्शन टीम में चयन का पैमाना होता था। चयनकर्ता इन मैचों के बाद ही टीम एलान किया करते थे।”

संदीप पाटिल ने कहा, “खिलाड़ियों को खुद ही आगे आकर इस बारे में बात करनी चाहिए। आज कल खिलाड़ी खुद को आईपीएल के लिए सुरक्षित रखना चाहते हैं। ऑस्‍ट्रेलिया की टीम भारत में कुछ ही सीमित ओवरों के मैच खेलेगी। जिस गति से और जिस दिशा में आज के युग का क्रिकेट जा रहा है उसे देखते हुए इस टूर्नामेंट को दोबारा जीवित करना काफी मुश्किल हो गया है।”

पाटिल ने अपने कार्यकाल की याद दिलाते हुए कहा कि 4-5 साल पहले मैंने इस विषय पर बोर्ड के समक्ष अपनी बात रखी थी। जब तक आप अपने घरेलू क्रिकेट पर ध्‍यान नहीं दोगे, आपको अच्‍छे खिलाड़ी नहीं मिल पाएंगे। अगर दूसरी श्रेणी के खिलाड़ी ही घरेलू क्रिकेट खेलते रहेंगे तो फिर चयनकर्ता किसे चुनेंगे।

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

www.facebook.com/crictodayhindi

नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

www.youtube.com/user/crictodaytv

हमें ट्विटर पर फ़ॉलो करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें

www.twitter.com/CrictodayHindi

क्रिकटुडे हिंदी का इन्स्टाग्राम पेज फ़ॉलो करें

www.instagram.com/crictodayhindi

Leave a comment

Cancel reply