टेस्ट क्रिकेट के प्रारूप में हर खिलाड़ी की अग्निपरीक्षा होती है. क्रिकेट के इस सबसे बड़े फोर्मेट में हर खिलाड़ी को खुद को साबित करना होता है, जो प्लेयर लाल गेंद वाले क्रिकेट में उत्तीर्ण हो जाता है, वह क्रिकेट का एक्सपर्ट कहलाता है. ऐसा नहीं है कि टी20 क्रिकेट या एकदिवसीय क्रिकेट में खेलने वाले खिलाड़ी की कोई कद्र नहीं की जाती है, लेकिन सच तो यह है कि टेस्ट का दर्जा क्रिकेट के अन्य प्रारूपों से बड़ा होता है.

पांच दिन तक चलते वाले इस क्रिकेट फोर्मेट में किसी भी खिलाड़ी के लिए छक्के लगाना बड़ी चुनौती होती है. हैरानी वाली बात यह है कि टेस्ट क्रिकेट में सिर्फ दो ही बल्लेबाज 100 से ज्यादा छक्के जड़ पाए हैं. बहरहाल, आज हम ऐसे 5 खिलाड़ियों की बात करेंगे, जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाए हैं. कौन से हैं वे दिग्गज, आइये जानते हैं:

ब्रैंडन मैकुलम –

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज मैकुलम को विश्व के सर्वश्रेष्ठ और विस्फोटक खिलाड़ियों में गिना जाता है. टेस्ट क्रिकेट इतिहास में उन्होंने सर्वाधिक छक्के जड़े हैं. उन्होंने 101 टेस्ट मुकाबलों में 107 छक्के लगाए हैं. दाएं हाथ के इस विस्फोटक बल्लेबाज ने 38.64 के औसत से 6453 रन बनाए हैं. मैकुलम ने 12 शतक और 31 अर्धशतक जड़े हैं. इस कीवी खिलाड़ी ने 776 चौके लगाए हैं. उनका उच्चतम व्यक्तिगत स्कोर 302 रन रहा है. मैकुलम ने कीवी टीम के लिए बहुत सारा योगदान दिया. उनके प्रतिनिधित्व में न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने खूब ऊंचाइयों को छुआ.

एडम गिलक्रिस्ट –

ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट का नाम इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है. उन्होंने 96 टेस्ट मुकाबलों में 100 छक्के जमाए हैं. इस दौरान उन्होंने 47.60 के बेहतरीन औसत से 5570 रन बटोरे हैं. गिलक्रिस्ट ने 17 शतक और 26 अर्धशतक भी लगाए. बाएं हाथ के इस विस्फोटक बल्लेबाज ने 677 चौके जड़े. गिली का उच्चतम व्यक्तिगत 204* रन नाबाद रहा है. गिलक्रिस्ट टेस्ट क्रिकेट में मध्यक्रम में बल्लेबाजी किया करते थे, जबकि वनडे क्रिकेट में वे बतौर सलामी बल्लेबाज खेला करते थे. बाएं हाथ के विस्फोटक बल्लेबाज गिलक्रिस्ट के ‘क्रिकेट’ योगदान को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया कभी नहीं भुला पाएगा.

क्रिस गेल –

वेस्टइंडीज के बाएं हाथ के इस दिग्गज सलामी बल्लेबाज का नाम सामने आने के बाद लम्बे-लम्बे छक्के याद आ जाते हैं. क्रिस गेल को दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में गिना जाता है. उन्होंने 103 टेस्ट मुकाबलों में 98 छक्के जड़े हैं. गेल ने 42.18 के औसत से 7214 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 15 शतक और 37 अर्धशतक जड़े हैं. उनका सर्वाधिक स्कोर 333 रन रहा है. मालूम हो कि गेल ने अभी तक सीमित ओवरों के (अंतर्राष्ट्रीय) क्रिकेट से संन्यास नहीं लिया है, लेकिन उन्होंने साल 2014 में टेस्ट को अलविदा बोल दिया था. अगर वे टेस्ट में और खेलते तो सर्वाधिक छक्कों का विश्व रिकॉर्ड भी बना सकते थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

जैक्स कैलिस –

दक्षिण अफ्रीकी टीम के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर जैक्स कैलिस को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ हरफनमौला खिलाडियों में शामिल किया जाता है. उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में बहुत सारे रिकॉर्ड दर्ज हैं. कैलिस ने 166 टेस्ट मुकाबलों में 97 छक्के जड़े हैं. वे इस मामले में चौथे स्थान पर हैं. इसके अलावा उन्होंने 55.37 के बेहतरीन औसत से 13289 रन बटोरे हैं. कैलिस ने 45 शतक और 58 अर्धशतक जमाए. इस दौरान उनका सर्वाधिक स्कोर 224 रन रहा. इतना ही नहीं, कैलिस ने 1488 चौके जमाए हैं. दाएं हाथ के ये बल्लेबाज 40 बार नोट आउट भी रहे. आज भी दक्षिण अफ्रीकी टीम को उनकी कमी खलती है. उनके जैसे खिलाड़ी का विकल्प मिलना बेहद मुश्किल है.

वीरेंद्र सहवाग –

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ‘मुल्तान के सुलतान’ के नाम से भी प्रख्यात हैं. उन्होंने पाकिस्तान के विरुद्ध उन्हीं की धरती पर साल 2004 में तिहरा शतक ठोंका था. उन्होंने मुल्तान टेस्ट में मेजबानों के विरुद्ध 309 रन की पारी खेली थी. भारत ने इस मैच को एक पारी और 52 रन से अपने नाम किया था. बहरहाल, सहवाग टेस्ट में सर्वाधिक छक्के जड़ने वालों की इस लिस्ट में पांचवें नंबर पर हैं. उन्होंने 104 टेस्ट मुकाबलों में 91 छक्के लगाए हैं. सहवाग ने 49.34 के शानदार औसत से 8586 रन बनाए हैं. उन्होंने 23 शतक और 32 अर्धशतक जमाए हैं. वीरू का उच्चतम स्कोर 319 रन है.

Leave a comment

Cancel reply