पूर्व पाक कप्तान इंजमाम उल हक ने भी न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड के इस निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए हैरानी जाहिर की है।

न्यूजीलैंड ने शुक्रवार को अपना पाकिस्तानी दौरा सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए रद्द कर दिया। पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर्स और फैंस ब्लैककैप्स के इस फैसले की कड़ी निंदा कर रहे हैं। इसी बीच पूर्व पाक कप्तान इंजमाम उल हक ने भी न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड के इस निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए हैरानी जाहिर की है।

51 साल के पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने अपने यूट्यूब चैनल पर इस मुद्दे पर बातचीत करते हुए कहा, “न्यूजीलैंड ने जो पाकिस्तान के साथ किया है वैसा कोई और देश नहीं कर सकता था। वे हमारे मेहमान थे और अगर उन्हें कोई परेशानी थी तो उन्हें पीसीबी से बात करनी चाहिए थी।”

उन्होंने आगे कहा, “पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड को बेस्ट सिक्योरिटी प्रदान की। साल 2009 में श्रीलंकाई टीम पर हुए हमले के बाद से ही हमने पाकिस्तान का दौरा करने वाली टीम्स को राष्ट्रपति जैसी सुरक्षा प्रदान की है।” इसके अलावा इंजमाम ने कहा कि इस मामले में आईसीसी को दखल देना चाहिए।

बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “आईसीसी को इस मामले में दखल देना चाहिए। अगर न्यूजीलैंड के पास कोई सिक्योरिटी अलर्ट है तो फिर वे क्यों नहीं दिखा रहे हैं। अगर पीसीबी को नहीं दिखा रहे हैं तो फिर आईसीसी को कम से कम दिखाएं। यहां तक कि हमारे प्रधानमंत्री ने भी उनसे बात करके उन्हें आश्वासन दिया था। अगर न्यूजीलैंड ने अपनी चिंताओं के बारे में पाकिस्तान को बताया होता तो निश्चित तौर पर सिक्योरिटी एजेंसी उनकी इस चिंता को दूर करती। कम से कम बताइए तो कि आपकी दिक्कत क्या है।”

आपको बताते चलें कि न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच शुक्रवार को तीन मुकाबलों की एकदिवसीय सीरीज का आगाज होना था और इसका पहला मैच रावलपिंडी में खेला जाना था। मगर ब्लैककैप्स ने टॉस से कुछ समय पहले दौरा रद्द करने का फैसला किया।

Leave a comment