इसमें सलामी बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर का नाम सबसे ऊपर है।

आईपीएल 2021 के पहले चरण में कोलकाता नाइट राइडर्स का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा था, लेकिन यूएई लेग में टीम ने जबरदस्त खेल दिखाते हुए फाइनल में जगह बना ली है। दूसरे चरण में केकेआर के युवा खिलाड़ियों ने अहम योगदान दिया। इसमें सलामी बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर का नाम सबसे ऊपर है। अय्यर को टूर्नामेंट के पहले हाफ में खेलने का मौका नहीं मिला था, लेकिन जब उन्हें दूसरे चरण में टीम की प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया तो उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाते हुए अपनी प्रतिभा दिखाई।

कई दिग्गज खिलाड़ी वेंकटेश अय्यर के शक्तिशाली स्ट्रोक और निडर बल्लेबाजी के मुरीद हुए और जमकर प्रशंसा की। इसी बीच भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने केकेआर के इस युवा बल्लेबाज की तारीफ की और कहा कि टीम के फाइनल में पहुंचने के पीछे वेंकटेश का अहम योगदान है। सहवाग ने क्रिकबज से बातचीत करते हुए कहा, “इसमें कोई शक नहीं कि वेंकटेश अय्यर इस टूर्नामेंट की अच्छी खोजों में से एक है।”

42 साल के दाएं हाथ के बल्लेबाज ने आगे कहा, “वेंकटेश अय्यर वो खिलाड़ी हैं, जिसने लीग में केकेआर की वापसी को सक्षम बनाया है। उन्होंने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई है और उनकी बदौलत केकेआर फाइनल में पहुंची है। उनके प्रदर्शन को देखते हुए केवल भारतीय टीम के प्रबंधन और चयनकर्ताओं ने उन्हें आगामी टी20 वर्ल्ड कप के लिए संयुक्त अरब अमीरात में रहने के लिए कहा है।”

सहवाग ने कहा, “अगर कोई चोटिल हो जाता है या हार्दिक पांड्या को कोई चिंता है तो वेंकटेश अय्यर को टीम में जगह मिल सकती है। वे एक शानदार खिलाड़ी हैं और जिस तरह से वेंकटेश बल्लेबाजी कर रहे हैं। अगर केकेआर की टीम कुछ खिलाड़ियों को बनाए रखना चाहती है तो वेंकटेश उन दावेदारों में से एक हो सकते हैं। मुझे लगता है कि टीम अय्यर को रिटेन करने के बारे में सोच सकती है।”

Leave a comment