ravi shastri
पूर्व कप्तान ने साल 2020-21 के भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे को याद करते हुए रवि शास्त्री के कोचिंग कार्यकाल की सभी बड़ी हाईलाइट बताई।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने रवि शास्त्री (Ravi Shastri) के कोचिंग कार्यकाल पर अपनी राय रखी है। उन्होंने बताया है कि मुख्य कोच के तौर पर शास्त्री की कौन सी बड़ी उपलब्धि है। पूर्व कप्तान ने साल 2020-21 के भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे को याद करते हुए रवि शास्त्री के कोचिंग कार्यकाल की सभी बड़ी हाईलाइट बताई।

भारत उस दौरे के पहले मैच में 36 पर ऑलआउट हो गया था और उसके बाद टीम इंडिया (Team India) ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए उस सीरीज को 2-1 से जीता था। 72 साल के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर ने स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत करते हुए कहा, “36 रन पर ऑल आउट होने के बाद भारतीय टीम ने, जिस तरह से वापसी की थी उसकी बात जरूर होनी चाहिए।”

दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने आगे कहा, “क्योंकि जब ऐसा होता है तो टीम अपने ऊपर से विश्वास खो देती है। टीम बहुत निराश हो जाती है और साथ ही खिलाड़ी हार मान लेते हैं। यहीं पर रवि शास्त्री ने अहम भूमिका निभाई थी। मैंने जो पढ़ा है उसके हिसाबमुताबिक उन्होंने सभी खिलाड़ियों से कहा था कि ‘इन 36 रनों को एक बैज की तरह पहनो।”

गावस्कर ने कहा, “हमारे प्रमुख खिलाड़ी उपलब्ध नहीं थे और टीम ए टीम जैसी दिख रही थी, लेकिन जिस भी खिलाड़ी को मौका मिला उसने अपना बेस्ट दिया और बेहतरीन प्रदर्शन किया। इससे पता चलता है कि रवि शास्त्री का युवा खिलाड़ियों के ऊपर कितना बड़ा प्रभाव था।”

Leave a comment

Cancel reply