टेस्ट सीरीज
कप्तान कोहली ने भारतीय टीम के रवाना होने से पहले बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें उन्होंने टीम की जीत की संभावनाओं के बारे में बात की।

साल 1992 में दक्षिण अफ्रीका (South Africa) की क्रिकेट में वापसी के बाद से भारतीय टीम वहां पर एक भी टेस्ट सीरीज जीतने में नाकामयाब रही है। साल 2018 में जब टीम इंडिया (Team India) दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गई थी तब भारत के पास प्रोटियाज टीम के खिलाफ अपने इस रिकॉर्ड को तोड़ने का अच्छा मौका था। हालांकि, भारत तीन मुकाबलों की टेस्ट सीरीज के आखिरी दो मैच हार गई थी, जिससे उस समय भी उनका सीरीज जितने का सपना टूट गया था।

भारत 16 दिसंबर को दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर जा रहा है और इस बार विराट कोहली की अगुआई वाली टीम इंडिया के पास टेस्ट सीरीज जीतने का बेहतरीन मौका है। दोनों टीम्स के बीच पहले तीन मुकाबलों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी, जिसका पहला मैच 26 दिसंबर से सेंचुरियन में खेला जाएगा। कप्तान कोहली (Virat Kohli) ने भारतीय टीम के रवाना होने से पहले बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें उन्होंने टीम की जीत की संभावनाओं के बारे में बात की।

33 साल के भारतीय टेस्ट कप्तान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज (Test Series) की चुनौती पर कहा, “दक्षिण अफ्रीका से ही हमारी शुरुआत हुई थी, जहां से हमें लगा था कि हम विदेशों में भी जीत दर्ज कर सकते हैं। दक्षिण अफ्रीका एक अलग तरह की चुनौती है। आपको अच्छा करने के लिए अपना बेस्ट देना होता है। अपने अनुभव के साथ ही हम इन चुनौतियों को अच्छे से संभाल रहे हैं। हम इस बार कुछ खास कर सकते हैं।”

Leave a comment

Cancel reply