moeen ali test rretirement
इंग्लैंड क्रिकेट टीम के महान ऑलराउंडर मोईन अली ने टेस्ट प्रारूप को अलविदा कह दिया है।

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के महान ऑलराउंडर मोईन अली ने टेस्ट प्रारूप को अलविदा कह दिया है। उन्होंने सोमवार को इस बात की पुष्टि कर दी है कि वे क्रिकेट के लंबे फॉर्मेट से संन्यास ले रहे हैं। दरअसल, मोईन लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट में अपना ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं, जिसके चलते उन्होंने यह फैसला लिया है। वैसे इंग्लिश खिलाड़ी ने पहले ही अपने इस निर्णय के बारे में कप्तान जो रूट और मुख्य कोच क्रिस सिल्वरवुड को जानकारी दे दी थी।

दाएं हाथ के बल्लेबाज ने इंग्लैंड के लिए 64 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें मोईन अली ने 28.29 के औसत से 2914 रन बनाए हैं। वहीं, उन्होंने 36.66 के औसत से 195 विकेट हासिल किए हैं। बता दें कि वे साल 2019 में खेली गई एशेज सीरीज के बाद से नियमित तौर पर टेस्ट क्रिकेट नहीं खेले हैं। हाल ही में मोईन भारत के विरुद्ध घरेलू सीरीज के लिए टेस्ट टीम का हिस्सा थे।

खबरों के मुताबिक, 34 साल के ऑफ स्पिनर लंबे समय तक अपने परिवार से दूर नहीं रहना चाहते हैं। मोईन अली ने अपने इस फैसले को लेकर कहा, “मैं अभी 34 साल का हूं और जितना हो सके खेलना चाहता हूं। मैं सिर्फ अपने क्रिकेट का आनंद लेना चाहता हूं। टेस्ट क्रिकेट अद्भुत है, जब आपका दिन अच्छा होता है तो यह किसी भी अन्य प्रारूप से बेहतर होता है। यह अधिक फायदेमंद होता है और आपको लगता है कि आपने वास्तव में इसे हासिल किया है।”

मोईन अली ने ऑस्ट्रेलिया के एशेज दौरे के लिए इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड से कोविड-19 प्रोटोकॉल साझा किए जाने से पहले ही टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का मन बना लिया था। वे इंग्लैंड के लिए सीमित ओवर क्रिकेट खेलते रहेंगे। फिलहाल, मोईन यूएई में आईपीएल 2021 का दूसरा चरण खेल रहे हैं। आईपीएल के 14वें सीजन में उन्होंने सीएसके की तरफ से खेलते हुए अब तक 9 मुकाबलों में 29.00 के औसत से 261 रन बनाए हैं, जबकि 5 विकेट चटकाए हैं।

Leave a comment

Cancel reply