kapil dev - virat kohli
अब कोहली के इस बयान पर पूर्व भारतीय विश्व चैंपियन कप्तान कपिल देव ने प्रतिक्रिया दी है।

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के विरुद्ध मिली करारी शिकस्त के बाद कहा कि मुकाबले में खिलाड़ियों ने साहसिक खेल नहीं दिखाया। रविवार को आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप का 28वां मुकाबला भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था, जिसमें कीवी टीम ने विराट सेना को 8 विकेट से पराजित किया। कीवी गेंदबाजों की धाकड़ गेंदबाजी के आगे भारतीय बल्लेबाजी क्रम ताश के पत्तों की तरह बिखर गया था। कप्तान कोहली ने मैच हारने के बाद कहा कि हम साहस नहीं दिखा पाए। अब कोहली के इस बयान पर पूर्व भारतीय विश्व कप कप्तान कपिल देव ने प्रतिक्रिया दी है।

कपिल देव ने टीवी न्यूज चैनल एबीपी के एक कार्यक्रम में बातचीत करते हुए कहा, “कप्तान को ऐसे बयान से बचना चाहिए। विराट कोहली जैसे खिलाड़ी का ऐसा बयान देना हैरान करने वाला है। हमें पता है कि कोहली मैच को जीतने के लिए कितनी मेहनत करते हैं, लेकिन मैच में टीम के खिलाड़ियों का और कप्तान का बॉडी लैंग्वेज ऐसा रहेगा तो यकीनन हम मैच नहीं जीत पाएंगे।”

62 साल के पूर्व भारतीय कप्तान ने आगे कहा, “टीम के कोच रवि शास्त्री और मेंटोर एमएस धोनी को आगे आना चाहिए और इस बुरे वक्त में टीम के खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाना चाहिए। ऐसे परफॉर्मेंस के बाद टीम की आलोचना होना स्वभाविक है और टीम के खिलाड़ियों को इसे स्वीकारना होगा।”

आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत ने अभी तक दो मुकाबले पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के विरुद्ध खेले हैं और दोनों में हार का सामना किया है। कीवी टीम के खिलाफ मुकाबले में टीम इंडिया ने बल्लेबाजी, गेंदबाजी में काफी निराशाजनक प्रदर्शन किया। इस मैच में केएल राहुल और ईशान किशन ने ओपनिंग की थी और टीम की हार के बाद राहुल और रोहित की जगह राहुल और ईशान से ओपनिंग कराने के फैसले की खूब आलोचना हो रही है।

बता दें कि भारत ने अभी 3 और नॉकऑउट मुकाबले खेलने हैं। अगर टीम को सेमीफइनल में जगह बनानी है तो उन्हें हर मुकाबले को बड़े अंतर से जीतना होगा और साथ ही दूसरी टीम्स के परिणाम पर भी निर्भर रहना होगा। टीम इंडिया अब अपना तीसरा मैच 3 नवंबर को अफगानिस्तान के विरुद्ध खेलेगी।

Leave a comment