virat kohli crictoday
'मुझे अब कप्तानी नहीं करनी' BCCI अधिकारी का कोहली को लेकर बड़ा खुलासा

ऑस्ट्रेलिया (Australia) की मीडिया न्यूज़कॉर्प के मुताबिक, अगर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) द्वारा बिग बैश लीग (BBL) का निजीकरण किया जाता है तो इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की फ्रेंचाइजी राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के मालिक बीबीएल में निवेश करने के इच्छुक हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राजस्थान रॉयल्स की पहले से ही कैरेबियन, दक्षिण अफ्रीका और संयुक्त अरब अमीरात में टी20 लीग में हिस्सेदारी है.

आरआर के सलाहकार बोर्ड मेंबर रवनीत गिल ने न्यूज कॉर्प से कहा, “मुझे उम्मीद है कि वे आईपीएल के साथ जो कुछ हुआ है, उससे सबक ले सकते हैं. ऑस्ट्रेलिया इतनी बड़ी क्रिकेट महाशक्ति है और कोई कारण नहीं है कि बिग बैश वहां क्यों नहीं होना चाहिए (एक शीर्ष लीग के रूप में).”

वहीं, आईपीएल के विपरीत, जो निजी स्वामित्व वाली फ्रेंचाइजी के मॉडल पर आधारित है, बीबीएल पूरी तरह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के स्वामित्व में है. इसके अलावा ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने भी लीग के अगले स्तर तक पहुंचने के लिए निजीकरण किए जाने की बात कही.

45 साल के ब्रेट ली ने कहा, “आपके पास सह-स्वामित्व हो सकता है और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया 51% बरकरार रख सकता है और फिर भी चीजों को नियंत्रित कर सकता है, लेकिन उस अतिरिक्त फंडिंग के साथ मुझे लगता है कि आपको बाहर आने के लिए कुछ उच्च प्रोफ़ाइल सितारे मिल सकते हैं.”

ली ने आगे कहा, “मैं विराट कोहली के बारे में बात कर रहा हूं. कल्पना कीजिए कि कोहली सिडनी सिक्सर्स और आपको मिलने वाली भीड़ (दर्शकों) के लिए खेल रहे हैं. मैं वास्तव में बिग बैश से प्रभावित हूं. उन्होंने बहुत अच्छा काम किया है, लेकिन अगले स्तर तक पहुंचने के लिए आपके पास यही होगा करने के लिए.”

यह भी पढ़ें | ‘भारत क्रिकेट का शहंशाह बन चुका है, जो वे चाहेंगे वही होगा’ शाहिद अफरीदी का बयान

अब देखने वाली बात यह होगी कि क्या क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया भी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के मार्गदर्शन पर चलता है या नहीं.

Leave a comment

Cancel reply