hardik pandya
टीम इंडिया के धाकड़ हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या पिछले काफी समय से चोट से परेशान हैं.

टीम इंडिया के धाकड़ हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या पिछले काफी समय से चोट से परेशान हैं। हार्दिक आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 में खेले थे, लेकिन उस टूर्नामेंट में भी वह लय में नज़र नहीं आए थे। इसी बीच उनसे जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है। खबरों में कहा जा रहा है कि हार्दिक अपनी पीठ की चोट के चलते क्रिकेट के एक प्रारूप से संन्यास लेने का मन बना रहे हैं। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट को दिए इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया है। दरअसल, पांड्या अपनी पीठ की चोटों की वजह से लगातार गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं।

दाएं हाथ के भारतीय ऑलराउंडर ने आखिरी बार साल 2018 में इंग्लैंड में एक टेस्ट मुकाबला खेला था और उसके बाद हार्दिक पांड्या टेस्ट प्रारूप में वापसी नहीं कर पाए। बता दें कि भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे पर उन्हें मौका दिए जाने पर कोई विचार नहीं किया जा रहा है।

बीसीसीआई ने एक अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट के साथ बातचीत करते हुए कहा, “हार्दिक कुछ समय से चोटों से जूझ रहे हैं। वह टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का विचार कर रहे हैं। हालांकि, उन्होंने हमें आधिकारिक तौर पर सूचित नहीं किया है। इससे उन्हें सफेद गेंद क्रिकेट पर अपना ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलेगी। वह अभी वैसे भी टेस्ट के लिए हमारी योजना में नहीं थे। यह निश्चित रूप से एक बड़ा नुकसान होगा, लेकिन हमें बैकअप तैयार करना होगा।”

उन्होंने आगे कहा, “वह सिर्फ 28 साल के हैं और अगर वह टेस्ट क्रिकेट छोड़ने पर अंतिम फैसला करते हैं तो यह निश्चित रूप से एक बड़ी चूक होगी। वह भारत के अब तक के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर्स में से एक रहे हैं, लेकिन हमें अगले दो सालों में दो विश्व कप के साथ सीमित ओवर्स में हरफनमौला हार्दिक की वापसी चाहिए। गेंदबाजी में उनकी वापसी अधिक महत्वपूर्ण होगी।”

बता दें कि हार्दिक पांड्या ने पिछले 12 महीनों में वनडे और टी20 दोनों प्रारूपों में मिलाकर मात्र 46 ओवर्स ही गेंदबाजी की है, जबकि इस दौरान उन्होंने एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला।

Leave a comment

Cancel reply