मलान ने भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को बताया 'सबसे खतरनाक', अश्विन की भी की तारीफ

भारतीय टीम के तेज गेंदबाजों ने इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में समपन्न टेस्ट सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया था. तीन साल बाद इंग्लैंड की टेस्ट टीम में वापस लौटे धाकड़ बल्लेबाज डेविड मलान का मानना है कि टीम इंडिया के पेसर्स एक दूसरे से अलग हैं और उनका सामना करना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं है. इसके अलावा उन्होंने धाकड़ ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के बारे में भी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.

मलान ने कहा, “ये सभी काफी कठिन है. भारतीय आक्रमण (शमी, बुमराह, इशांत, सिराज, उमेश, शार्दुल) के बारे में एक बात है कि वे सभी एक दूसरे से अलग है. उनके खिलाफ खेलने की आदत कभी नहीं बन सकती. एक को खेलने की आदत होती है तो दूसरा नई चुनौती पेश करता है. सभी ने सीरीज में बेहतरीन प्रदर्शन किया.”

उन्होंने अश्विन को लेकर कहा, “वह गंभीर गेंदबाज है. वह सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में से एक है. मेरे लिए इस पर टिप्पणी करना मुश्किल होगा कि वह टीम में क्यों नहीं थे. भारतीय टीम प्रबंधन, कप्तान ने जडेजा और अश्विन में से जडेजा को चुना. वे सीरीज में आगे थे तो उस फैसले पर बहस नहीं की जा सकती. मुझे खुशी है कि अश्विन नहीं खेला.’

मालूम हो कि अश्विन को इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट सीरीज में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिल पाया था. उनकी जगह रविंद्र जडेजा को टीम में शामिल किया गया था.

उल्लेखनीय है कि टीम इंडिया पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से आगे थी, लेकिन भारतीय खेमे में कोरोना की एंट्री के बाद रद्द कर दिया गया.

Leave a comment