team india
संयुक्त अरब अमीरात और ओमान में खेले जा रहे आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 में भारतीय टीम ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया और टीम सेमीफाइनल में जगह बनाने में असफल रही है।

संयुक्त अरब अमीरात और ओमान में खेले जा रहे आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 में भारतीय टीम ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया और टीम सेमीफाइनल में जगह बनाने में असफल रही है। भारत के खराब प्रदर्शन पर कई दिग्गज खिलाड़ी और फैंस कड़ी आलोचना कर रहे हैं। ऐसे में पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर टीम इंडिया के बचाव में उतरे हैं और समर्थकों से अपील की है कि भारत के विश्व कप से बाहर होने के बाद लोग खिलाड़ियों के प्रति कठोर व्यवहार न करें।

गंभीर का मानना है कि फैंस को निष्कर्ष पर नहीं जाना चाहिए, बल्कि भारतीय टीम के प्रति अपना समर्थन जारी चाहिए। एक खराब टूर्नामेंट खिलाड़ियों की काबिलयत कम नहीं करता है। 40 साल के पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने टाइम्स ऑफ इंडिया के कॉलम में लिखा, “मैं क्रिकेट फैंस से टीम इंडिया पर गर्व करते रहने का आग्रह करता हूं। हम उनके समर्थकों के रूप में अपमानजनक और विश्वासघाती होंगे यदि हम टीम को मौजूदा विश्व कप में इस अकेले प्रदर्शन से आंकते हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “हां हम पाकिस्तान से हार गए, हां हम न्यूजीलैंड के खिलाफ अपनी रणनीति से हारे थे। हां सीमा पार से हमारे दोस्त सेमीफाइनल में हैं और हम नहीं, लेकिन रुकिए इस भारतीय टीम ने हमारे लिए इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीती, इसके बाद उन्होंने घरेलू सीरीज में इंग्लैंड को तीनों प्रारूपों में हराया, हम वर्तमान में इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई टेस्ट सीरीज में 2-1 से आगे हैं, जिसका चौथा टेस्ट मुकाबला अगले साल खेला जाएगा।”

बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने अपने इस कॉलम में बायो-बबल को लेकर भी कुछ अहम बातें कहीं। उनके अनुसार, बायो-बबल में रहना और एक के बाद एक मुकाबले खेलना इसके लिए बहुत साहस रखना पड़ता है और खिलाड़ी एक के बाद एक लगातार दूसरे टूर्नामेंट में बिना ब्रेक लिए खेल रहे हैं। हमें खिलाड़ियों की आलोचना करने के बजाय टीम पर काम करना चाहिए”

Leave a comment