ramiz raja
'अगर रमीज़ राजा में अगर थोड़ी शर्म बाकी है तो उन्हें अपने पद से इस्तीफ़ा दे देना चाहिए'

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के सचिव जय शाह ने हाल ही में ऐलान किया था कि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के लिए अब आधिकारिक तौर पर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) द्वारा हर साल ढाई महीने की विंडो दी जाएगी। शाह का ये ऐलान ऐसे समय में आया था, जब बीसीसीआई को इन आईपीएल 2023-27 मीडिया अधिकारों से बम्पर कमाई हुई.

बीसीसीआई की बैक टू बैक इस कामयाबी से ऐसा लगता है कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) बौखला गया है और वो क्रिकेट का अस्तित्व बचाने के नाम पर दुनिया भर के क्रिकेट बोर्ड्स को बीसीसीआई के खिलाफ करने में लगा हुआ है।

टाइम ऑफ़ इंडिया (TOI) में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, पीसीबी के एक सूत्र का कहना है कि आईसीसी के फ्यूचर टूर प्रोग्राम (FTP) में आईपीएल को ढाई महीने की विंडो दिया जाना सही नहीं है और इससे इंटरनेशनल क्रिकेट पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा।

पीसीबी के सूत्र ने आगे कहा, “जुलाई में कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान बर्मिंघम में आईसीसी बोर्ड मेंबर्स की मीटिंग होगी तब पीसीबी इस मामले को वहां उठाएगा।”

पाकिस्तानी बोर्ड के अधिकारी ने ये भी कहा कि पीसीबी क्रिकेट में पैसा आने से खुश है, लेकिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड का ढाई महीनों के लिए टॉप इंटरनेशनल खिलाड़ियों को बुक कर लेना क्रिकेट के खेल पर बुरा प्रभाव डाल सकता है।

Leave a comment

Cancel reply