ऋषभ पंत पर पूर्व टीम सलेक्टर मदन लाल का आया बड़ा बयान, कहा कभी नहीं बनने देता कप्तान

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ पांच मुकाबलों की टी20 आई सीरीज के लिए सलामी बल्लेबाज़ केएल राहुल (KL Rahul) को कप्तान बनाया गया था। मगर ग्रोइन इंजरी के चलते उन्हें सीरीज से बाहर होना पड़ा, जिसके बाद बाएं हाथ के विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को टीम की कमान सौंपी गई थी, लेकिन ऋषभ को कप्तान बनाए जाने का ये फैसला बीसीसीआई (BCCI) के पूर्व सेलेक्टर मदन लाल (Madan Laal) को बिलकुल पसंद नहीं आया।

टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर मदन लाल ने स्पोर्ट्स तक पर कहा कि ऋषभ पंत को अभी टीम इंडिया का कप्तान नहीं बनाया जाना चाहिए। उन्होंने माना कि पंत भविष्य के कप्तानों की रेस में प्रबल दावेदार हैं, लेकिन 24 साल के इस युवा खिलाड़ी को काफी कुछ सीखना अभी बाकी है।

वर्ल्ड कप विजेता इस पूर्व ऑलराउंडर ने कहा, “मैं उसे कप्तान बनने से रोक देता। मैं ऐसा होने ही नहीं देता। ऐसे खिलाड़ियों को ये जिम्मेदारी बाद में दी जाती है। भारतीय टीम का कप्तान बनना बड़ी बात है। वो अभी काफी युवा हैं और फ़िलहाल कहीं नहीं जा रहे। वो जितना खेलेंगे उतने ही परिपक्व होते जाएंगे।

मदन लाल ने धोनी और कोहली की कप्तानी के साथ भी पंत की तुलना की। उन्होंने कहा, “पंत अलग प्रवृति के खिलाड़ी हैं। एमएस धोनी शांत और ठंडे दिमाग वाले कप्तान थे, जो उन्हें अलग बनाता था। विराट कोहली कमाल के बल्लेबाज हैं। मैं ये नहीं कह रहा हूं कि पंत ने बल्ला घुमाना ही नहीं चाहिए पर अगर वो थोड़ा और सावधानी से खेलते हैं तो अच्छा रहेगा।”

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज शुरू होने से महज़ एक दिन पहले कप्तान बनाए गए पंत के नेतृत्व में टीम इंडिया को पहले दो मुकाबलों में लगातार हार झेलनी पड़ी। हालांकि, इसके बाद भारत ने जोरदार वापसी करते हुए पांच मैचों की टी20 अंतर्राष्ट्रीय श्रृंखला के अगले दो मैचों में शानदार जीत हासिल की थी। आखिरी मुकाबला रद्द होने के बाद यह सीरीज 2-2 से बराबर रही।

Leave a comment

Cancel reply