पाकिस्तानी गेंदबाज ने बताई कोहली की तकनीक में खामी, बोले 'बाबर, रूट, विलियमसन उनसे बेहतर हैं'

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) को लगता है कि अब विराट कोहली (Virat Kohli) उतने असरदार खिलाड़ी नहीं हैं, जितने वो 3-4 साल पहले हुआ करते थे। हफीज ने कहा कि विराट के ऊपर काफी ज्यादा मानसिक दबाव है इसलिए उन्हें ब्रेक की सख्त जरुरत थी।

हफीज ने पाकिस्तानी अखबार ‘डॉन’ के साथ खास बातचीत करते हुए कहा, “विराट कोहली पिछले 10 सालों से विश्व क्रिकेट के सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक हैं। मगर उन्हें ब्रेक की सख्त जरुरत थी, क्योंकि उनके ऊपर काफी ज्यादा मानसिक दबाव था। बोर्ड का कोहली को आराम देने का फैसला, उनके लिए सबसे अच्छा निर्णय है।”

41 साल के ऑलराउंडर ने क्रिकेट जगत में कोहली के कम होते दबदबे पर भी चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है विराट कोहली काफी प्रभावशाली खिलाड़ी हैं। मगर पिछले 2-3 सालों से उनका प्रभाव नज़र नहीं आ रहा है। आखिरी टी20 वर्ल्ड कप में उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ अर्धशतकीय पारी खेली थी, लेकिन उस इनिंग का मुकाबले पर कोई फर्क नहीं पड़ा था।” उन्होंने आगे कहा कि “अगर पारी प्रभावशाली नहीं है तो आपके खेलने का कोई मतलब नहीं बनता है।”

पूर्व पाकिस्तान कप्तान ने बीसीसीआई (BCCI) के फैसले की सराहना करते हुए कहा, “हर खिलाड़ी को आराम की जरुरत होती है। भारतीय बोर्ड ने अच्छा फैसला लिया है। इस ब्रेक से विराट को एक बार फिर प्रभावशाली खिलाड़ी बनने में मदद मिलेगी।”

गौरतलब है कि विराट कोहली अपने करियर के सबसे खराब दौर से गुजर रहे हैं। उन्होंने लगभग पिछले तीन सालों से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में एक भी शतक नहीं लगाया है। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने आखिरी बार नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफी डे-नाईट टेस्ट मुकाबले के दौरान तीन अंकों के आंकड़े को छुआ था। कोहली ने इसके बाद अर्धशतक तो काफी लगाए हैं मगर वो इन्हे शतक में तब्दील करने में लगातार नाकाम हो रहे हैं। यही नहीं हाल के इंग्लैंड दौरे पर कोहली से काफी ज्यादा उम्मीदें थी, लेकिन वो अंग्रेज़ों के खिलाफ एक बार भी 20 से ज्यादा रनों की पारी नहीं खेल पाए।

Leave a comment

Cancel reply