'टीम इंडिया को चाहिए स्थिर कप्तान', पूर्व भारतीय खिलाड़ी का बड़ा बयान

भारतीय टीम (Team India) के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज़ दीप दासगुप्ता (Deep Dasgupta) का कहना है कि टीम इंडिया को एक स्थिर कप्तान की जरुरत है। भारतीय खिलाड़ी बुधवार को इंग्लैंड (England) के खिलाफ एक बार फिर नीली जर्सी में टी20 आई मुकबला खेलने मैदान पर उतरेगा, जहां टीम की कमान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के हाथों में होगी। 45 साल के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने इसे भारतीय टीम के लिए बड़ा फायदा बताया है।

एएनआई को दिए इंटरव्यू में दीपदास गुप्ता ने कहा, “यह बहुत जरुरी है कि टीम के पास एक स्थिर कप्तान हो। कप्तानी की पोजीशन में पिछले कुछ महीनों में काफी बदलाव हुए हैं, खासतौर पर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच और आयरलैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान। चोट और दूसरे कई कारणों की वजह से हमें कई बार कप्तान बदलने पड़े, लेकिन अब रोहित फिट हैं और आने वाले मुकाबलों के लिए उपलब्ध रहेंगे।”

भारत के लिए टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट खेल चुके दासगुप्ता ने टी20 वर्ल्ड कप की ओर ध्यान खींचते हुए याद दिलाया कि यह मेगा टूर्नामेंट अब ज्यादा दूर नहीं है। उन्होंने कहा, “टी 20 वर्ल्ड कप के लिए 2-3 महीने ही बाकी हैं। कई खिलाड़ी हैं, जिन्होंने कमाल का प्रदर्शन दिखाया है। वर्ल्ड कप से पहले भारत ने सिर्फ 20-22 मैच खेलने हैं, तो हो सकता है सलेक्टर्स ने इस बड़े टूर्नामेंट के लिए खिलाड़ियों को चुनना शुरू कर दिया हो।” उन्होंने आगे कहा कि यहां से आगे खेला जाने वाले हर एक मुकाबला बेहद अहम होने वाला है।

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय में भारतीय टीम के लगातार कप्तान बदले गए हैं। जून में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रोहित को आराम देते हुए केएल राहुल को कप्तानी दी गई थी। मगर वो चोटिल होकर सीरीज से बाहर हो गए, जिसके बाद ऋषभ पंत ने भारतीय टीम की कमान संभाली। आयरलैंड के खिलाफ हार्दिक पांडया टीम इंडिया के कप्तान थे, जबकि इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले रोहित के कोरोना संक्रमित होने के चलते कप्तानी की जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह को सौंपी गई थी।

Q. पहला एकदिवसीय क्रिकेट मैच कब खेला गया था?


A. 5 जनवरी 1971 (AUS vs ENG)

Leave a comment

Cancel reply