abdullah shafeeq pakistan
'पाकिस्तान की गाले टेस्ट में जीत 1987 में भारत के खिलाफ बैंगलोर में मिली जीत के बराबर है'

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के अध्यक्ष रमीज राजा (Ramiz Raja) ने गाले टेस्ट में श्रीलंका (Sri Lanka) के खिलाफ हालिया जीत के लिए राष्ट्रीय टीम की सराहना करते हुए कहा कि यह जीत 1987 के बैंगलोर टेस्ट में भारत (India) पर पाकिस्तान की ऐतिहासिक जीत के बराबर है. जानकारी हो कि पाकिस्तान ने अंतिम दिन 342 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए गाले में पहले टेस्ट में श्रीलंका को चार विकेट से हराकर दो मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बना ली. मेहमानों की जीत में स्टार सलामी बल्लेबाज अब्दुल्लाह शफीक ने अहम भूमिका निभाई. उन्होंने 408 गेंदों में नाबाद 160* रनों की पारी खेली, जिसमें 7 चौके और 1 छक्का शामिल था. इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया.

59 साल के रमीज राजा ने पाकिस्तान के एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए कहा, “कठिनाई के दृष्टिकोण से मैं कहूंगा कि यह रन-चेज़ में पाकिस्तान की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट जीत में से एक है, शायद सर्वश्रेष्ठ. कठिन परिस्थितियों के संदर्भ में मैं कहूंगा कि गाले की जीत उस जीत के बराबर है, जो हमने बैंगलोर में भारत के खिलाफ हासिल की थी.”

पूर्व टेस्ट कप्तान रमीज़ राजा इमरान खान की कप्तानी वाली पाकिस्तानी टीम का हिस्सा थे, जिसने 1987 में बैंगलोर में कम स्कोर वाले टेस्ट में भारत को हराया था.

उन्होंने आगे अब्दुल्लाह शफीक की तारीफ करते हुए कहा, “मुझे लगता है कि वह (अब्दुल्ला) भविष्य के सुपरस्टार हैं. वास्तव में वह पहले ही सुपर स्टार बन चुके हैं. अगर आप टेस्ट क्रिकेट में उनके रिकॉर्ड को देखें तो यह शानदार है.”

यह भी पढ़ें – आमिर ने फिर अलापा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी का राग, बोले ‘पहले रमीज को इस्तीफ़ा देने दो’

उन्होंने कहा, “वह एक उत्तम दर्जे के मजबूत खिलाड़ी हैं और याद रखें कि पारी को खोलना कभी भी आसान नहीं होता है. विशेष रूप से चौथी पारी में पीछा करना, लेकिन जिस फोकस और शांति के साथ उसने खेला वह उसके लिए एक बड़ी उपलब्धि है.

Q. रमीज़ राजा कितने साल के हैं?

A. 59

Leave a comment

Cancel reply