Hardik and Pant
ऋषभ और हार्दिक की साझेदारी देख पाकिस्तानी खिलाड़ी को याद आई 2002 की ऐतिहासिक नेटवेस्ट ट्रॉफी

रविवार को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफोर्ड मैदान पर खेले गए तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में भारत (India) ने स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (125*) के नाबाद शतक और धाकड़ ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (4/24 और 71 रन) के हरफनमौला प्रदर्शन की बदौलत इंग्लैंड (England) को 5 विकेट से पराजित कर दिया. साथ ही मेहमानों ने सीरीज को भी 2-1 से अपने कब्ज़े में ले लिया. पंत का वनडे क्रिकेट में यह पहला शतक था, जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

वहीं, दूसरी तरफ पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज राशिद लतीफ ने पंत की तारीफ की. उन्होंने कहा, “हम सभी उनके बारे में जानते हैं उनका (बल्ला) चल गया तो चांद तक नहीं तो शाम तक.”

दरअसल, राशिद का मानना है कि पंत, जब भी बल्लेबाजी करते हैं तो वे ज्यादातर गैरजिम्मेदाराना शॉट खेलकर अपना विकेट सस्ते में गंवा देते हैं, लेकिन इस बार उन्होंने संभल कर बल्लेबाजी की और अपनी पारी को शतक में तब्दील किया.

53 साल के पाकिस्तानी खिलाड़ी ने आगे कहा, “लोग कभी-कभी उनकी बल्लेबाजी पर सवाल उठाते हैं, लेकिन जब वह इस तरह की इनिंग खेलते हैं तो कोई उनका अनुकरण नहीं कर पाता. कुल मिलाकर उनकी बल्लेबाजी ऐसी है कि कभी-कभी वह टीम को मुश्किल परिस्थिति से बाहर निकाल लेते हैं और कभी-कभी जीता हुआ मैच भी अपने खराब शॉट से गंवा देते हैं.”

यह भी पढ़ें – हार्दिक ने वनडे में की बड़ी उपलब्धि हासिल, युवराज-सचिन-गांगुली की सूची में बनाई जगह

Q. ऋषभ पंत ने वनडे क्रिकेट में कितने शतक बनाए हैं?

A. 1

Leave a comment

Cancel reply