moeen ali
'समाप्त हो जाएगा वनडे क्रिकेट', मोइन अली ने क्यों दिया ऐसा बयान?

इंग्लैंड (England) टीम के स्टार ऑलराउंडर मोइन अली (Moeen Ali) का मानना है कि अगर डोमेस्टिक और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के कार्यक्रम में बदलाव नहीं किया गया तो एकदिवसीय क्रिकेट समाप्त हो जाएगा. उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में इस फोर्मेट की उतनी अहमियत नहीं है, जितनी पहले हुआ करती थी. अली के मुताबिक, खिलाड़ी वनडे प्रारूप में भाग लेने में रुचि नहीं लेंगे.

35 साल के मोइन अली ने क्रिकेट 365 के साथ इंटरव्यू में कहा, “ऐसा लगता है कि वनडे इतिहास की किताबों में शामिल हो सकता है, क्योंकि 50 ओवर के खेल में दिलचस्पी कम होती दिख रही है. इस फॉर्मेट की उतनी अहमियत नहीं है, जितनी पहले हुआ करती थी. खिलाड़ी सीमित ओवरों के इस प्रारूप में भाग लेने में रुचि नहीं लेंगे.”

उन्होंने आगे कहा, “यह इस समय हमारे घरेलू सामान की तरह है. वहां सौ है, जबकि 50 ओवर चल रहा है और काउंटी चैम्पियनशिप, विटैलिटी ब्लास्ट और हंड्रेड की तुलना में इसमें उतनी दिलचस्पी नहीं है. तीनों प्रारूपों में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के लिए अब तक का सबसे अच्छा क्रिकेट है. इसमें कोई संदेह नहीं है, लेकिन मुझे चिंता है कि इतने सारे टूर्नामेंट हैं कि खिलाड़ी अब और रिटायर हो रहे हैं और आप जल्द ही और अधिक रिटायर होते देखेंगे.”

बता दें कि जब से इंग्लैंड के स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट से संन्यास लिया है, तब से ही वनडे क्रिकेट विवाद का विषय बना हुआ है. स्टोक्स ने 50 ओवर वाले फोर्मेट से संन्यास लेकर सभी को चौंका दिया था. उन्होंने टी20 और टेस्ट में खेलना जारी रखा है. वहीं, टी20 क्रिकेट की बढती लोकप्रियता को देखते हुए फैन्स भी सबसे छोटे प्रारूप को पसंद करने लगे हैं.

यह भी पढ़ें – ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के भारत दौरे के कार्यक्रम का हुआ ऐलान, देखिए पूरा शेड्यूल

Q. मोइन अली कौन से देश की राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हैं?

A. इंग्लैंड

Leave a comment

Cancel reply