rishabh pant crictoday

स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ मौजूदा टी20 आई सीरीज के लिए टीम इंडिया (India) का कप्तान बनाया गया है. उनकी अगुवाई में मेजबानों को दिल्ली में खेले गए सीरीज के पहले मैच में 7 विकेट से हार झेलनी पड़ी, जिसके बाद से ऋषभ की कप्तानी की कड़ी आलोचना की जा रही है. उन्हें चोटिल केएल राहुल के सीरीज से बाहर होने के बाद नीली जर्सी वाली टीम का कप्तान बनाया गया है.

वहीं, दूसरी तरफ ऋषभ पंत के कोच रह चुके राजू शर्मा ने बताया है कि पंत को कप्तानी में कैसे महारथ हासिल करनी चाहिए. उन्होंने साफ कहा है कि अगर 24 साल के खिलाड़ी को सफल कप्तान बनना है तो उन्हें बचपना छोड़ना होगा. इसके अलावा कोच ने कहा कि उन्हें कम से कम दो-तीन मैचों का मौका देना चाहिए, उसके बाद ही बात करना सही होगा.

कोच राजू शर्मा ने इंडिया टीवी के साथ बातचीत में कहा, “हमारी कोचिंग का अनुभव बताता है कि एक विकेटकीपर बेस्ट कप्तान बनता है या बन सकता है. मैदान में उसकी स्थिति उसे खेल पर नियंत्रण बनाकर रखने में उसकी मदद करती है. पंत में समय के साथ मेच्योरिटी आएगी. उन्हें बतौर कप्तान ज्यादा जिम्मेदारी से बल्लेबाजी करनी होगी, बचपना छोड़ना पड़ेगा.”

यह भी पढ़ें – IND vs SA: ऋषभ पंत के कोच ने अपने शिष्य की कप्तानी पर दी बड़ी प्रतिक्रिया

उन्होंने आगे कहा, “लेकिन पहले इंटरनेशनल मैच की कप्तानी के बाद ही उन्हें खारिज करना ठीक नहीं होगा. वह आईपीएल में लगातार दो सीजन कप्तानी करके आए हैं, उन्हें कम से कम दो-तीन मैचों का मौका देना चाहिए, उसके बाद ही बात करना सही होगा.” गौरतलब है कि पंत ने पिछले दो आईपीएल सीजन में दिल्ली कैपिटल्स टीम की अगुवाई भी की है.

Leave a comment

Cancel reply