virat kohli-ms dhoni
'अगर धोनी नहीं होते तो कोहली कभी कामयाब क्रिकेटर नहीं बन पाते' पाकिस्तानी खिलाड़ी का दावा

पाकिस्तान (Pakistan) के स्टार बल्लेबाज अहमद शहजाद (Ahmed Shahzad) ने अपने देश के सीनियर खिलाड़ियों को लेकर कहा है कि वे किसी को सफल होते देखकर खुश नहीं हो सकते हैं और यह पाकिस्तान क्रिकेट के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है. साथ ही उनका यह भी मानना है कि अगर महेंद्र सिंह धोनी नहीं होते तो विराट कोहली का करियर कभी आगे नहीं बढ़ पाता.

30 साल के अहमद शहजाद ने एक इंटरव्यू में कहा, “मैंने यह पहले भी कहा है और इसे फिर से कहूंगा. विराट कोहली का करियर आगे बढ़ा, क्योंकि उन्होंने एमएस धोनी को पाया, लेकिन दुर्भाग्य से पाकिस्तान में लोग आपकी सफलता को बर्दाश्त नहीं कर सकते.”

यह भी पढ़ें – ‘अगर रन नहीं बनाओगे तो लोगों से चुप रहने की उम्मीद बिल्कुल भी न करें’ कपिल ने विराट की लगाई क्लास

उन्होंने आगे कहा, “हमारे सीनियर खिलाड़ी और पूर्व क्रिकेटर किसी को सफल होते देखकर पचा नहीं सकते, जो पाकिस्तान क्रिकेट के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है.”

शहजाद साल 2019 में आखिरी बार पाकिस्तान के लिए खेले थे. वह साल 2017 के बाद से टेस्ट और वनडे मैच नहीं खेले हैं. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने पाकिस्तान के लिए 13 टेस्ट मुकाबलों में 40.91 के औसत से 982 रन बनाए हैं. इसके अलावा शहजाद के नाम पर 81 एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय में 32.56 के एवरेज से 2605 रन दर्ज हैं. उन्होंने टी20 आई में 59 मुकाबलों में 25.80 के औसत से 1471 रन बटोरे हैं.

Q. अहमद शहजाद ने अपना सबसे पहला वनडे मैच कब खेला था?

A. 2009 में

Leave a comment

Cancel reply