ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच अगले सप्ताह से एशेज सीरीज खेली जानी है, जिसका पहला मुकाबला ब्रिसबेन के गाबा में खेला जाएगा। ऐसे में इंग्लैंड के क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा है कि कंगारू टीम के विरुद्ध गाबा टेस्ट में स्टोक्स को जरूर मौका देना चाहिए। स्टोक्स ने क्रिकेट से अनिश्चितकाल तक का ब्रेक लिया था और इस दौरान इंग्लिश क्रिकेटर ने अपनी चोटिल उंगली का ऑपरेशन कराया। अब वह आगामी एशेज सीरीज में वापसी करने के लिए पूरी तरह से फिट हैं।

53 साल के पूर्व कप्तान ने डेली मेल को लिखे अपने कॉलम में कहा, “कोच क्रिस सिल्‍वरवुड और इंग्‍लैंड निदेशक एश्‍ले जाइल्‍स ऑलराउंडर बेन स्‍टोक्‍स की वापसी में कोई जल्‍दबाजी नहीं करना चाहते हैं। यह सही सोच है। उन्‍होंने उस खिलाड़ी के प्रति चिंता जताई है, जिसने जुलाई से क्रिकेट नहीं खेली है।”

उन्होंने आगे कहा, “लेकिन ऐतिहासिक सीरीज में आपको अपने सबसे कड़े चरित्रों की जरूरत होती है और इस तरह के खिलाड़ियों की जरूरत होती है, जो ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़‍ियों के कदम से कदम मिलाकर चलें। स्‍टोक्‍स को पहले टेस्‍ट में जरूर चुनना चाहिए।”

दाएं हाथ के पूर्व इंग्लिश बल्लेबाज ने कहा, “बस देखिए कि ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ किस तरह के गेंदबाज सफल हुए। इयान बॉथम, केविन पीटरसन, एंड्रयू फ्लिंटॉफ और स्‍टोक्‍स ने पिछली एशेज सीरीज में दमदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा, इसलिए जो रूट चाहेंगे कि स्‍टोक्‍स गाबा में जरूर खेलें।”

हुसैन ने कहा, “रूट एक तरफ जॉस बटलर को रखना चाहेंगे और दूसरी तरफ वो चाहेंगे कि आक्रामक विकल्‍प हो और बेन स्‍टोक्‍स से बेहतर कोई नहीं। मैं स्‍टोक्‍स को गाबा में छठे नंबर पर उतारूंगा। पांचवें स्थान पर ओली पोप या जॉनी बेयरस्‍टो बेहतर विकल्‍प होंगे। फिर स्‍टोक्‍स और उसके बाद जॉस बटलर को खिलाना चाहिए।”

Leave a comment

Cancel reply