कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है, जिससे फुटबॉल और क्रिकेट जैसे बड़े खेल ही नहीं बल्कि दुनिया की सबसे बड़ी रेसलिंग प्रमोशन कंपनी वर्ल्ड रेसलिंग एंटरटेनमेंट यानी WWE को भी वित्तीय संकट का सामना करना पड़ रहा है। WWE अमेरिका ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय है। यही वजह है कि कोरोना के चलते WWE आर्थिक संकट से जूझने को मजबूर है।

कोरोना वायरस का प्रकोप पिछले साल दिसंबर में चीन से शुरू हुआ था, लेकिन इस जानलेवा वायरस ने धीरे-धीरे पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया। संयुक्त राज्य अमेरिका में कोरोना वायरस ने इसी साल 13 जनवरी को दस्तक दी थी, लेकिन मार्च आते-आते स्थिति नियंत्रण से बाहर हो गई।

इस स्थिति में WWE ने अपने वीकली शो- RAW और स्मैकडाउन को दर्शकों के बगैर ही आयोजित करने का फैसला किया। हालांकि, उन्होंने इवेंट के आयोजन के स्थान को बदल दिया और इन शोज का टीवी पर लाइव प्रसारण भी जारी रहा।

इसके बाद 17 मार्च को WWE RAW का प्रसारण किया गया, जिसकी व्यूअरशिप 2.335 मिलियन रही। ये मार्च महीने की सबसे ज्यादा व्यूअरशिप थी। यही नहीं, RAW के 4 दिन बाद स्मैकडाउन नें भी साल 2020 की सबसे ज्यादा 2.569 मिलियन व्यूअरशिप हासिल की, लेकिन एक ही सप्ताह के भीतर कोरोना वायरस की वजह से WWE की व्यूअरशिप लुढ़क कर सिर्फ 2.006 मिलियन रह गई। WWE RAW के इतिहास में नॉन हॉलिडे की ये दूसरी सबसे कम व्यूअरशिप रही।

इसके बाद अप्रैल में होने वाली कंपनी के सबसे बड़ी पीपीवी रेसलमेनिया 36 को दर्शकों को बिना कराने का निर्णय लिया गया। साथ ही इवेंट के आयोजन की जगह को भी बदला दिया गया, जिससे कंपनी को भारी नुकसान उठाना पड़ा।

ऐसा नहीं है कि कोरोना वायरस का असर सिर्फ WWE की व्यूअरशिप पर ही पड़ा। लाइव शो में दर्शकों की एंट्री बैन होने के साथ ही WWE के रेवेन्यू को भारी झटका लगा और उसके लिए उन्हें कई कड़े कदम उठाने पड़े। WWE ने अपने वित्तीय नुकसान को कम करने के मकसद से मैनेजमेंट ने WWE चैंपियन कर्ट एंगल और ड्रेक मेवरिक, जैसे कई बड़े सितारों निकाल दिया। WWE के इस फैसले से ड्रेक मेवरिक तो इतना निराश हुए कि वह एक वीडियो संदेश में अपने आंसू नहीं रोक पाए।

WWE ने अप्रैल की 15 तारीख को बयान जारी कर कर्ट एंगल, ड्रेक मैवरिक, कर्ट हॉकिंस, कार्ल एंडरसन-ल्यूक गैलोज, हीथ स्लेटर, एरिक यंग, ईसी3, एडन इंग्लिश, लियो रश, एरिक रोवन, साराह लोगन, एपिको-प्रीमो, माइक किओडा, रुसेव, जैक रायडर, मारिया कनेलिस, नो वे होजे, माइक कनेलिस, जैसे कई बड़े रेसलर्स को बाहर का रास्ता दिखा दिया।

WWE में छटनी का दौर यही नहीं थमा और कंपनी ने सुपरस्टार्स के अलावा कई मैच रेफरी, कोच और प्रोड्यूसर को भी रिलीज करने का फैसला किया। इस छंटनी के बाद WWE ने घोषणा करते हुए कहा कि इस कटौती से कंपनी को करीब 3 मिलियन पाउंड से ज्यादा की बचत होगी।

इन सब कारणों से ये बात तो स्पष्ट हैं कि COVID-19 के चलते आई मंदी से WWE भी अछूता नहीं हैं। यही वजह है कि WWE ज्यादा से ज्यादा फंड को बचाने के तरीके खोजने में लगा है। यही नहीं, हाल ही में WWE में कोरोना का एक मामला भी सामने आया है। WWE ने बयान जारी कर इस बात की पुष्टि की थी कि उनका एक रेसलर कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इसके बाद महिला रेसलर का क्वीन ऑफ द रिंग टूर्नामेंट को रद्द करने का फैसला किया गया।

अमेरिका में कोरोना के मामलों की बात करें तो, यहां 22 लाख से भी ज्यादा कोरोना के मामलें अब तक सामने आ चुके हैं, जोकि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा हैं। अमेरिका में अब तक कोरोना से करीब 1 लाख 20 हजार लोग मौत का शिकार हो चुके हैं, जबकि देश में अभी भी 1 लाख 18 हजार के करीब लोग कोरोना से संक्रमित हैं।

Leave a comment