टेनिस जगत में इस समय एक नहीं बल्कि तीन बादशाह हैं, जिन्हें दुनिया रोजर फेडरर, राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच की तिकड़ी के नाम से जानती है। इस दौर के टेनिस फैंस काफी खुशकिस्मत हैं, जो इस तिकड़ी के खेल का एक साथ लुत्फ उठा पा रहे हैं।

रोजर फेडरर, नोवाक जोकोविच और राफेल नडाल की तिकड़ी ने कुल मिलाकर 56 ग्रैंडस्लैम खिताब, 97 एटीपी मास्टर्स 1000 टूर्नामेंट और 11 एटीपी फाइनल्स जीते हैं। खिताबों की इस रिकॉर्ड संख्या को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस तिकड़ी ने टेनिस इतिहास में इस दौर को स्वर्णिम युग बना दिया है। यही वजह है पूरी दुनिया फेडरर, जोकोविच और नडाल को टेनिस जगत में ‘फैब 3’ या ‘बिग थ्री’ की तिकड़ी के नाम से जानती है।

38 साल के फेडरर ने 20 ग्रैंडस्लैम सिंगल्स खिताब जीते हैं, जबकि 34 साल नडाल के नाम 19 ग्रैंडस्लैम खिताब दर्ज हैं। वहीं, जोकोविच बिग थ्री में सबसे युवा हैं और उनके नाम 17 ग्रैंडस्लैम खिताब हैं। जोकोविच की उम्र अभी 33 साल है।

अब सवाल यह उठता है कि वो कौन से युवा टेनिस खिलाड़ी हैं, जो रोजर फेडरर, राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच की जगह ले सकते हैं। आइए एक नजर डालते हैं, ऐसे ही कुछ युवा खिलाड़ियों पर –

डोमिनिक थीम (ऑस्ट्रिया)

26 साल के ऑस्ट्रियन खिलाड़ी डोमिनिक थीम टेनिस के उभरते खिलाड़ी हैं, जो लगातार शानदार प्रदर्शन से फैंस के चहेते बनते जा रहे हैं। डोमिनिक थीम की सबसे बड़ी क्वॉलिटी है, उनका लगातार शानदार प्रदर्शन जिसकी वजह से उन्हें भविष्य का टेनिस सितारा माना जा रहा है।

डोमिनिक थीम के प्रदर्शन की बात करें, तो इस युवा खिलाड़ी ने साल 2018 से 3 बार ग्रैंडस्लैम के फाइनल में जगह बनाई है, लेकिन खिताब जीतने में सफल नहीं हो सके हैं। 2018 और 2019 के फ्रेंच ओपन में थीम को लगातार 2 बार क्ले कोर्ट के बादशाह नडाल से हार मिली, जबकि 2020 ऑस्ट्रेलियन ओपन में उन्हें जोकोविच से हार का सामना करना पड़ा।

डोमिनिक पिछले 3 साल में भले ही खिताब से महज एक जीत दूर रह गए हों, लेकिन इस दौरान उन्होंने नडाल और जोकोविच जैसे खिलाड़ियों को कड़ी चुनौती दी है। डोमिनिक के पूरे करियर रिकॉर्ड पर नजर डालें तो उन्होंने कुल 284 मैच में जीत हासिल की है, जबकि 152 में हार का सामना किया है।

मार्च 2020 में जारी वर्ल्ड रैंकिंग के मुताबिक, डोमिनिक थीम इस समय दुनिया के नंबर 3 सिंगल्स खिलाड़ी हैं। वह थॉमस मस्टर के बाद इतिहास में दूसरी सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग हासिल करने वाले ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी हैं। थॉमस साल 1996 में दुनिया के नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी बने थे।

डेनिल मेदवेदेव (रूस)

रूस के स्टार टेनिस खिलाड़ी डेनिल मेदवेदेव बेहद ही कम उम्र में टेनिस की दुनिया में अपनी धाक जमा चुके हैं। 24 साल के मेदवेदेव के लिए पिछला साल काफी शानदार रहा। साल 2019 में मेदवेदेव 3 मास्टर्स 1000 इवेंट्स और यूएस ओपन समेत लगातार 6 फाइनल्स में जगह बनाने में सफल रहे। इस शानदार प्रदर्शन की बदौलत रशियन खिलाड़ी 9 सितंबर 2019 को वर्ल्ड रैंकिग में नंबर 4 पर पहुंच गए। ऐसे में उन्हें निकट भविष्य में शानदार तिकड़ी का दावेदार कहा जा सकता है।

अलेक्जेंडर ज्वेरेव (जर्मनी)

जर्मनी के 23 साल के टेनिस स्टार अलेक्जेंडर ज्वेरेव ने पिछले कुछ सालों में अपने शानदार खेल से सभी को प्रभावित किया है। टेनिस परिवार से आने वाले ज्वेरेव ने महज 20 साल की उम्र में नंबर 3 रैंकिंग हासिल की थी। इसी के साथ टॉप-10 रैकिंग में जगह बनाने वाले वह दुनिया के दूसरे सबसे युवा खिलाड़ी बन गए। ज्वेरेव 2018 एटीपी फाइनल में चैंपियन बनने में सफल रहे। ज्वेरेव भले ही टेनिस ग्रैंडस्लैम के फाइनल मं अभी तक जगह नहीं बना सके हों, लेकिन एटीपी मास्टर्स 1000 में जिस तरह का शानदार प्रदर्शन किया है, उसे देखते हुए उन्हें भविष्य का बड़ा टेनिस स्टार माना जा रहा है।

स्टेफानोस सितसिपास (ग्रीस)

रोजर फेडरर, नोवाक जोकोविच और राफेल नडाल को चुनौती देना फिलहाल किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं है, लेकिन ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्हें भविष्य में इस तिकड़ी का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। स्टेफानोस ने अपनी प्रतिभा का लोहा उसी समय मनवा दिया था जब 21 साल के इस युवा खिलाड़ी ने अगस्त 2019 में करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग नंबर 5 हासिल की थी। इसी के साथ टॉप-10 रैंकिंग में जगह बनाने वाले दुनिया के सबसे युवा खिलाड़ी बन गए थे। इस प्रदर्शन के आधार पर उन्हें भविष्य के स्टार खिलाड़ी के तौर पर देखा जा रहा है।

Leave a comment

Cancel reply