Ravindra Jadeja - MS Dhoni
उन्होंने कहा कि कप्तानी का असर जडेजा की बल्लेबाजी और गेंदबाजी पर हो रहा था।

एमएस धोनी (MS Dhoni) ने रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के सीएसके (CSK) की कप्तानी छोड़ने के पीछे की असली वजह का खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि कप्तानी का असर जडेजा की बल्लेबाजी और गेंदबाजी पर हो रहा था। बता दें कि इस मौजूदा सीजन की शुरुआत से पहले महेंद्र सिंह धोनी ने चेन्नई टीम की कप्तानी छोड़ दी थी, जिसके बाद टीम का नया कप्तान रविंद्र जडेजा को नियुक्त कर दिया गया था। मगर जडेजा ने शनिवार को इस पद से इस्तीफा दे दिया, जिसके बाद धोनी ने दोबारा टीम की कमान संभाल ली है।

एमएस धोनी ने रविवार को एसआरएच (SRH) के खिलाफ मैच के बाद कहा, “मुझे लगता है कि जडेजा को पिछले सीजन में ही पता था कि उसे इस बार कप्तानी करनी है। इस सीजन के पहले दो मैच में मैंने उसकी मदद की, लेकिन उसके बाद मैंने सारी जिम्मेदारी उसी को सौंप दी थी। फैसले लेने के लिए मैंने उसे स्वतंत्र कर दिया था, ताकि सीजन खत्म होने के बाद जडेजा के पीछे से सारा काम कोई और ही कर रहा था।”

उन्होंने आगे कहा, “एक बार, जब आप कप्तान बन जाते हैं तो लोगों को आपसे बहुत उम्मीदें होने लगती हैं। इसका असर खिलाड़ी के प्रदर्शन पर भी पड़ता है। दिमाग चकरा जाता है। मुझे लगता है कि जडेजा के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है।मुझे लगता है कि कप्तानी की जिम्मेदारी का असर उसके परफॉर्मेंस पर भी पड़ा है। मतलब है कि वह बैटिंग और बॉलिंग अपना पुराना रंग नहीं दिखा पा रहा था।”

40 साल के धोनी ने कहा, “यही चीज उसकी फील्डिंग में भी हुई। हमें शानदार डीप-मिडविकेट फील्डर चाहिए, जो कप्तानी के भार के कारण दब रहा था। हम एक शानदार गेंदबाज और बैटर नहीं खोना चाहते। टीम के लिए शानदार ऑलराउंडर जडेजा ज्यादा जरूरी है, जो बैटिंग-बॉलिंग और फील्डिंग में धमाल मचा सके। अब हम कोशिश कर रहे हैं कि सबकुछ जल्द पटरी पर लौट आए।”

मैच की बात करें तो सीएसके ने आईपीएल 2022 के 46वें मुकाबले हैदराबाद की टीम को 13 रनों से हरा दिया। चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 2 विकेट के नुकसान पर 202 रन बनाए थे। इसके बाद एसआरएच 6 विकेट खोकर 189 रन ही बना सकी।

Leave a comment