MS Dhoni
दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट के मैदान पर किसी भी परिचय के मोहताज नहीं हैं.

एमएस धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) ने आईपीएल 2021 के फाइनल में कोलकाता नाइट राइडर्स को हराकर अपना चौथा आईपीएल खिताब जीता है. टीम ने खेल के सभी विभागों में शानदार प्रदर्शन किया है. दिसंबर में मेगा नीलामी का आयोजन किया जाएगा, लेकिन इस बार चेन्नई अपने हर महत्वपूर्ण खिलाड़ी को रिटेन नहीं कर पाएगा. नियमों के अनुसार, एक टीम चार खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती है और कोई राइट टू मैच कार्ड उपलब्ध नहीं है.

इसमें कोई संदेह नहीं है कि एमएस धोनी चेन्नई सुपर किंग्स की पहली पसंद होंगे, लेकिन एमएस धोनी नहीं चाहते कि सीएसके उन्हें बनाए रखने के लिए ज्यादा रकम खर्च करे. Editorji से बात करते हुए, सीएसके के मालिक एन श्रीनिवासन ने खुलासा किया है कि माही रिटेंशन नीति के खिलाफ हैं.

एडिटरजी से बात करते हुए, श्रीनिवासन ने कहा, ‘एमएस धोनी एक निष्पक्ष व्यक्ति हैं, वह चाहते हैं कि रिटेंशन नीति सामने आए, क्योंकि वह नहीं चाहते कि सीएसके उन्हें बनाए रखते हुए बहुत पैसा खो दे – इसलिए वह सभी को अलग-अलग जवाब देते हैं.’

एक फ्रैंचाइज़ी को अपनी पहली पसंद के खिलाड़ी के लिए 16 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे, अगर वह 4 खिलाड़ियों को रिटेन करती है. जबकि 3 खिलाड़ियों को रिटेन करने पर यह राशि घटकर 15 करोड़ रुपये रह जाएगी. एक फ्रैंचाइज़ी को 1 या 2 खिलाड़ियों को रिटेन करने पर 14 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे. सीएसके से 3-4 खिलाड़ियों को रिटेन करने की उम्मीद है और धोनी को सबसे ज्यादा रकम मिल सकती है. बता दें कि एमएस धोनी मौजूदा टी20 वर्ल्ड कप में मेंटर के तौर पर टीम इंडिया के साथ हैं.

Leave a comment