IND v NZ
भारत 31 अक्टूबर को दुबई में टी20 विश्व कप 2021 के सुपर12 के अपने दूसरे मुकाबले में न्यूजीलैंड से भिड़ेगा.

भारत 31 अक्टूबर को दुबई में टी20 विश्व कप 2021 के सुपर12 के अपने दूसरे मुकाबले में न्यूजीलैंड से भिड़ेगा. भारत के विश्व कप अभियान की शुरुआत बेहद खराब रही, टीम इंडिया को पाकिस्तान के खिलाफ 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. दूसरी ओर, कीवी टीम भी पाकिस्तान से अपना मुक़ाबला 5 विकेट से हार गई. सेमीफाइनल की दौड़ में बने रहने के लिए भारत और न्यूजीलैंड दोनों ही यह मुक़ाबला जीतना चाहेंगे. लेकिन जीत उसकी होगी जिसके खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करेंगे. इस लेख के जरिए हम भारत और न्यूजीलैंड के उन खिलाड़ियों के बारे में जानेंगे जिनके बीच इस मुकाबलें में कड़ी प्रतिस्पर्धा होने जा रही है.

रोहित शर्मा बनाम ट्रेंट बोल्ट

रोहित शर्मा बनाम ट्रेंट बोल्ट

बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों के खिलाफ रोहित शर्मा की परेशानी पाकिस्तान के खिलाफ एक बार फिर सामने आई है. उन्हें शाहीन शाह अफरीदी ने शानदार इन स्विंग में फंसा कर बिना खाता खोले ही पवेलियन भेज दिया. इससे पहले मोहम्मद आमिर ने भी उन्हें काफी परेशान किया था. 2017 चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में, आमिर ही थे, जिन्होंने रोहित को सस्ते में वापस भेजकर पाकिस्तान के लिए एक प्लेटफार्म सेट कर दिया था, जिसके बाद भारत मैच में वापसी नहीं कर सका और मैच हार गया.

ट्रेंट बोल्ट रविवार को होने वाले मैच में रोहित की इस कमजोरी का फायदा उठाना चाहेंगे. बोल्ट गेंद को अंदर ले जाने में बहुत सक्षम है. ऐसे में, रोहित को ट्रेंट बोल्ट के खिलाफ सावधान रहने की आवश्यकता होगी.

मार्टिन गुप्टिल बनाम जसप्रीत बुमराह

मार्टिन गुप्टिल बनाम जसप्रीत बुमराह

न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल टी20 फॉर्मेट के सबसे विस्फोटक सलामी बल्लेबाजों में से एक हैं. वह दुनिया के किसी भी गेंदबाज़ी आक्रमण को तहस-नहस करने की क्षमता रकते हैं. विपक्षी गेंदबाजों को परेशान करने के लिए गुप्टिल के पास कई तरह के शॉट्स हैं. पाकिस्तान के खिलाफ मार्टिन गुप्टिल अच्छी लय में दिखाई दिए थे. गुप्टिल भारत के खिलाफ अपनी इस लय को बरकरार रखना चाहेंगे.

गुप्टिल अपने बड़े शॉट्स की वजह से जाने जाते है और उन्हें रोकने के लिए गेंदबाजों को गति का इस्तेमाल करना पड़ता है. पाकिस्तान के तेज़ गेंदबाज़ रऊफ ने अपनी गति से गुप्टिल को अपने जाल में फंसाया था. जसप्रीत बुमराह वह गेंदबाज़ है जो गति का बेहतरीन प्रयोग करते आए हैं. अगर वह अपनी यॉर्कर और बाउंसर को सटीक जगह पर रखते हैं तो वह गुप्टिल के लिए परेशानी का सबब बन सकते हैं.

विराट कोहली बनाम ईश सोढ़ी

विराट कोहली बनाम ईश सोढ़ी

जब भारतीय बल्लेबाजों ने पाकिस्तान के खिलाफ घुटने टेक दिए थे, तब कप्तान विराट कोहली ने धैर्य के साथ बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक बनाया. यह दबाव में खेली गई एक बेहतरीन पारी थी. भले ही भारत यह मैच हार गया लेकिन, कोहली को इस पारी से आत्मविश्वास जरुर मिला होगा. विराट कोहली को अब इसे न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले करो या मरो वाले मुकाबलें में बरकरार रखना होगा.

लेग-स्पिन एक ऐसी चीज है, जिसने हाल के दिनों में कोहली को काफी परेशान किया है. चाहे वह एडम जैम्पा हो या आदिल राशिद, कोहली की तकनीक में इन्होंने सेंध लगाई है. यही कारण है कि भारत के खिलाफ मैच में न्यूजीलैंड के ईश सोढ़ी की बड़ी भूमिका होगी. उन्होंने 2016 के टी20 विश्व कप मुकाबले में भारत के खिलाफ ही इस सफलता का स्वाद चखा था. देखना होगा क्या वह फिर से ऐसा कर सकते हैं?

केन विलियमसन बनाम रवींद्र जड़ेजा

केन विलियमसन बनाम रवींद्र जड़ेजा

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन गति और स्पिन दोनों के खिलाफ बेहतरीन बल्लेबाज़ी करते हैं. इस मुकाबलें में टीम के दबाव में होने से उनसे काफी उम्मीद की जा रही होगी. पिच पर टिक जाने के बाद वह काफी तेज गति से रन बना सकते हैं और भारत को दबाव में डाल सकते हैं. भारत को यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्हें जल्द से जल्द आउट किया जाए.

बाएं हाथ के स्पिनर रवींद्र जडेजा ऐसे खिलाड़ी हैं जो रनों की गति पर अंकुश लगा सकते हैं. अगर वह बीच के ओवरों में विलियमसन को आउट कर लेते हैं, तो न्यूजीलैंड का मध्यक्रम दबाव में आ सकता है. बीच के ओवरों में विलियमसन और जड़ेजा के बीच मुकाबला देखने योग्य होगा.

Leave a comment