टी20 विश्व कप का सातवां सीजन 17 अक्टूबर से 14 नवंबर तक यूएई और ओमान में आयोजित किया जाएगा. राउंड 1 में 12 मैच शामिल होंगे, जिसमें आठ टीमें शामिल होंगी, जिनमें से चार (प्रत्येक ग्रुप से टॉप दो) सुपर 12 के लिए क्वालीफाई करेंगी. सुपर 12 के एक ग्रुप में इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज है, भारत, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान को दूसरे ग्रुप में रखा गया है. वेस्टइंडीज विश्व कप के पिछले सीजन की विजेता टीम है. 2021 के इस सीजन से पहले जानिए टी20 विश्व कप के 10 बड़े रिकॉर्ड.

सर्वाधिक रन

महेला जयवर्धने

श्रीलंका के पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने टी20 विश्व कप में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. उनके नाम 31 मैचों में 134.74 के स्ट्राइक रेट और 39.07 की औसत से 1016 रन दर्ज हैं. जयवर्धने ने अपने टी20 विश्व कप करियर में एक शतक और 6 अर्धशतक लगाए हैं. वास्तव में, वह टी20 विश्व कप में 1000 से अधिक रन बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं.

सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर

ब्रैंडन मैकुलम

कीवी दिग्गज ब्रैंडन मैकुलम का 123 रनों का व्यक्तिगत स्कोर, टी 20 विश्व कप में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर है. मैकुलम ने 2012 में पल्लेकेले स्टेडियम में बांग्लादेश के खिलाफ 58 गेंदों में 123 रन बनाए थे. पूर्व क्रिकेटर ने अपनी इस पारी के दौरान 11 चौके और सात छक्के लगाए. न्यूजीलैंड ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 3 विकेट पर 191 रन बनाए थे. कीवी टीम ने 59 रन से यह मुकाबला जीत था.

सर्वोच्च टीम स्कोर

श्रीलंकाई टीम

श्रीलंका का 6 विकेट पर 260 रन टी20 विश्व कप में किसी भी टीम का सर्वाधिक स्कोर है. श्रीलंकाई टीम ने 2007 में जोहांसबर्ग में टी20 विश्व कप के उद्घाटन सीजन में केन्या के खिलाफ यह प्रदर्शन किया था. इस मैच में सनथ जयसूर्या ने 44 गेंदों में 88 रन और जयवर्धने ने 27 गेंदों में 65 रन की पारियां खेली थीं, जबकि मुबारक ने 13 गेंदों में नाबाद 46* रन बनाए, जिसमें पांच छक्के शामिल थे. जवाब में केन्या की पूरी टीम 88 रनों पर सिमट गई थी और श्रीलंका ने 172 रनों से यह मुकाबला जीत लिया था.

न्यूनतम टीम स्कोर

टी20 विश्व कप 2014 में श्रीलंका के खिलाफ नीदरलैंड्स के 39 रन, इस टूर्नामेंट के इतिहास में किसी भी टीम का सबसे न्यूनतम स्कोर है.

टी20 विश्व कप 2014 में श्रीलंका के खिलाफ नीदरलैंड्स के 39 रन, इस टूर्नामेंट के इतिहास में किसी भी टीम का सबसे न्यूनतम स्कोर है. इस मैच में टॉम कूपर नीदरलैंड के एकमात्र बल्लेबाज थे, जो दोहरे अंक तक पहुंचे थे. एंजेलो मैथ्यूज और अजंता मेंडिस ने क्रमशः तीन-तीन विकेट हासिल किए थे. श्रीलंका ने पांच ओवर में नौ विकेट शेष रहते लक्ष्य को हासिल कर लिया था.

सर्वाधिक बार शून्य पर आउट

शाहिद अफरीदी

पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी और श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान के नाम टी 20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा बार शून्य पर आउट होने का रिकॉर्ड है. दोनों ही बल्लेबाज़ क्रमशः 34 और 35 मैचों में पांच-पांच बार डक के रूप में आउट हुए हैं. लेंडल सिमंस, सनथ जयसूर्या और ल्यूक राइट चार-चार बार बिना खाता खोले गेंदबाजों का शिकार बने हैं.

एक पारी में सर्वाधिक छक्के

क्रिस गेल

वेस्टइंडीज के दिग्गज खिलाड़ी क्रिस गेल के नाम एक पारी में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड है. उन्होंने मुंबई में टी20 विश्व कप के 2016 के सीजन में इंग्लैंड के खिलाफ 48 गेंदों में नाबाद 100 रन की अपनी पारी के दौरान 11 छक्के लगाए थे. गेल की वीरता की बदौलत विंडीज ने 18.1 ओवर में आसानी से 183 रनों का पीछा करते हुए जीत हासिल की थी.

एक सीजन में सर्वाधिक रन

विराट कोहली

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने टी20 विश्व कप के एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड बनाया है. उन्होंने बांग्लादेश में आयोजित 2014 टी20 विश्व कप के दौरान 6 मैचों में 129.1 के स्ट्राइक रेट और 106.33 के औसत से 319 रन बनाए थे. कोहली ने इस सीजन में चार अर्धशतक लगाए थे.

सर्वाधिक विकेट

शाहिद अफरीदी

टी20 विश्व कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी के नाम है. उन्होंने 34 मैचों में 23.25 के औसत और 6.71 की इकॉनमी से 39 विकेट चटकाए हैं. लसिथ मलिंगा 38 विकेट के साथ इस सूची में दूसरे स्थान पर हैं.

सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ी

अजंता मेंडिस

अजंता मेंडिस ने 2012 के टी20 विश्व कप के दौरान जिम्बाब्वे के खिलाफ 6 रन देकर 8 विकेट झटके थे. जिम्बाब्वे की पूरी टीम 183 रनों का पीछा करते हुए 17.3 ओवर में 100 रनों पर सिमट गई थी. मेंडिस की इस घातक गेंदबाज़ी से पहले जिम्बाब्वे ने 6 ओवर में 37 रन बनाए थे.

एक सीजन में सर्वाधिक विकेट

अजंता मेंडिस

अजंता मेंडिस के नाम टी20 विश्व कप के एक सीजन में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड है. उन्होंने 2012 टी20 विश्व कप के दौरान 9.6 के स्ट्राइक रेट और 10 से कम के औसत से 6 मैचों में कुल 15 विकेट हासिल किए थे. उस दौरान उनका इकॉनमी रेट (6.12) भी शानदार रहा था.

Leave a comment