बाबर आज़म टेस्ट में अभी तक बतौर कप्तान फेल रहे हैं.

पाकिस्तानी टीम के धाकड़ बल्लेबाज बाबर आज़म को विश्व क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में गिना जाता है. हालांकि, वे टेस्ट में अभी तक बतौर कप्तान फेल रहे हैं. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने लाल गेंद वाले क्रिकेट में कप्तान के तौर पर 4 मुकाबलों की 6 पारियों में सिर्फ 124 रन ही बनाए हैं. इस दौरान उनका औसत महज 20.66 का रहा है, जिसमें सिर्फ 1 ही अर्धशतक शामिल है.

इतना ही नहीं, बाबर आज़म ज़िम्बाब्वे के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं. उन्होंने अभी तक 2 पारियों में सिर्फ 2 ही रन बटोरे हैं. इस दौरान बाबर ने 8 गेंदों का सामना किया है. ऐसे में पाकिस्तानी टीम के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने बाबर के फेल होने का कारण बताया है. साथ ही अख्तर ने उन्हें ज्यादा रन बनाने की सलाह भी दी है.

रावलपिंडी एक्सप्रेस ने कहा, “बाबर के साथ ऐसा उनके क्वारंटीन के अंदर भी क्वारंटीन होने से हुआ. जिम्बाब्वे के खिलाफ बाबर आजम को अपने टर्न के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा. पहले ओपनर और फिर अजहर अली की लंबी बैटिंग की वजह से बाबर आजम को काफी इंतजार करना पड़ा. इस दौरान पैड पहनकर बैठना और मैच को निहारना सबसे खराब होता है.”

दाएं हाथ के पूर्व तूफानी पेसर ने कहा, “बाबर को इस सीरीज में कम से कम 300-400 रन बनाने चाहिए थे, लेकिन कभी कभी ऐसा होता है, जब आप स्कोर नहीं कर पाते, लेकिन मुझे इल्म है कि बाबर रन बनाने के लिए अपना बेस्ट दे रहे हैं. हमें उनसे काफी अपेक्षाएं हैं. हमें बस पॉजिटिव सोच बनाए रखनी है.”

गौरतलब है कि बाबर आज़म को पाकिस्तान के विराट कोहली का दर्जा दिया जाता है. उनकी तुलना अक्सर भारतीय कप्तान से की जाती है.

Leave a comment