भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर युवराज सिंह ने राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) का बचाव किया है. युवराज ने एनसीए का बचाव करते हुए कहा कि इसी अकादमी के कारण ही वो कैंसर से उभर पाए और दोबारा क्रिकेट के मैदान पर वापसी कर पाए. बता दें कि हाल ही में ये ख़बर सामने आई थी कि कुछ भारतीय खिलाड़ी नेशनल क्रिकेट अकादमी में मिल रहीं सुविधाओं से नाखुश हैं. इसके बाद अब युवराज सिंह ने अकादमी की तरफ से अपना पक्ष रखते हुए उसका बचाव किया है.

युवराज सिंह ने ट्वीट किया, “एनसीए को लेकर काफी आलोचनाएं सामने आ रही हैं। इसको लेकर में अपना अनुभव साझा करना चाहता हूं, कैंसर के बाद राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में मिली सुविधाओं के कारण ही मैं फिर से क्रिकेट खेलने में कामयाब हो पाया। इस अकादमी में बेहतरीन ट्रेनर्स और फिजियो मौजूद हैं.”

इससे पहले बीसीसीआई के एक आधिकारिक सूत्र ने बताया था कि टीम इंडिया के तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर के अलावा कई अनुभवी खिलाड़ियों ने शिकायत की थी कि राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में मिल रहीं सुविधाएं खिलाड़ियों के लिए फायदेमंद साबित नहीं हो रही हैं.

इसके अलावा आईपीएल के दौरान चोटिल हुए विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा भी इसी अकादमी में ट्रेनिंग कर रहे थे,वहीं अब खबर सामने आ रही है कि ऋद्धिमान साहा कंधे की चोट के कारण काफी समय के लिए क्रिकेट से दूर हो गए हैं.

उल्लेखनीय है कि बाएं हाथ के बल्लेबाज़ युवराज सिंह काफी समय से टीम से बाहर चल रहे हैं, वहीं अब युवी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट के ज़रिये एनसीए का बचाव किया है.

Leave a comment

Cancel reply