'मैं मुस्कुराता हूं, लेकिन मेरे सीने में आग जलती रहती है'

भारतीय क्रिकेट टीम के दाएं हाथ के दिग्गज तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को यॉर्कर किंग के नाम से जाना जाता है. बुमराह मौजूदा समय में टीम इंडिया के साथ इंग्लैंड में न्यूजीलैंड के विरुद्ध आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021 फाइनल खेलने में व्यस्त हैं. ऐसे में उन्होंने एक बड़ा बयान दिया है. बुमराह ने कहा है कि वे मुस्कुराते हैं, लेकिन उनके सीने में आग जलती रहती है. बुमराह के मुताबिक़, वे अपने गुस्से को काबू करने की कोशिश करते हैं, जिससे उन्हें अपने खेल को सुधारने में मदद मिलती है.

बुमराह ने कहा, “तो कुल मिलकार मैं अपने गुस्से को काबू करने की कोशिश करता हूं, जब मैं यंगस्टर था तो मैं काफी गुस्सा होता था. मुझे बात-बात पर गुस्सा आता था. मैं कई ऐसे काम करता था, जिनसे मेरे खेल को कोई फायदा नहीं होता था तो इतने साल तक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बाद मुझे अहसास हुआ है कि मेरे लिए क्या काम करता है तो मैं हंस देता हूं लेकिन मेरे भीतर हमेशा आग जलती रहती है.”

उन्होंने कहा, “मैं हमेशा इसे दिखाने की कोशिश नहीं करता, लेकिन यही तरीका है, जिससे मुझे कामयाबी मिलती है और मैं अपने गुस्से को काबू कर पाता हू. इससे मुझे अपने खेल को सुधारने में मदद मिलती है.”

इससे पहले बुमराह ने भारतीय टीम के दिग्गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की जमकर तारीफ की थी. यॉर्कर किंग ने अश्विन को ‘खेल के महान खिलाड़ियों में से एक’ बताया था.

बुमराह ने कहा था, “मुझे लगता है कि वह खेल के महान खिलाड़ियों में से एक हैं, क्योंकि अगर आप उनके रिकॉर्ड को देखें तो यह खुद बयां करता है. उन्होंने गेंद के साथ-साथ बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन किया है. उन्होंने 400 से अधिक टेस्ट विकेट लिए हैं और यह संयोग से नहीं आता है.”

Leave a comment