Wriddhiman Saha
साहा ने अपने इस निर्णय के पीछे की असली वजह बताते हुए कहा है कि वह किसी का करियर बर्बाद नहीं करना चाहते हैं।

भारतीय टीम (India) के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को उस पत्रकार का नाम नहीं बताने का फैसला किया है, जिसने उन्हें धमकाया था। साहा ने अपने इस निर्णय के पीछे की असली वजह बताते हुए कहा है कि वह किसी का करियर बर्बाद नहीं करना चाहते हैं।

साहा ने इस मुद्दे पर इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत करते हुए कहा, “मेरी अभी तक बीसीसीआई (BCCI) से इस बारे में कोई बातचीत नहीं हुई है। अगर वह मुझसे पत्रकार (journalist) का नाम शेयर करने के लिए कहेंगे तो मैं ऐसा नहीं करूंगा, क्योंकि मैं किसी के भी करियर से खिलवाड़ नहीं करना चाहता हूं, इसलिए मैंने ट्वीट में भी उस पत्रकार का नाम नहीं शेयर किया था।”

37 साल के भारतीय क्रिकेटर ने आगे कहा, “मेरे मां-बाप ने मुझे यह नहीं सिखाया है। मैंने वह ट्वीट इसलिए शेयर किया था कि मैं दिखाना चाहता था कि मीडिया में कुछ पत्रकार ऐसा भी करते हैं। मैं अपने ट्वीट के जरिए यही बताना चाहता था, जिस पत्रकार ने ऐसा किया है उसे यह पता है। मैंने वह ट्वीट इसलिए किया कि मैं नहीं चाहता कि किसी खिलाड़ी को यह सब झेलना पड़े। मैं यह मैसेज देना चाहता था, जो कुछ किया गया वह ठीक नहीं था और फिर से किसी को ऐसा नहीं करना चाहिए।”

ऋद्धिमान साहा ने यह भी बताया कि उनकी प्रज्ञान ओझा (Pragyan Ojha) से बात हुई है, जो इस समय आईपीएल (IPL) गवर्निंग काउंसिल में भारतीय क्रिकेटर्स एसोसिएशन (ICA) का हिस्सा हैं। उन्होंने कहा, “ओझा ने मुझे फोन किया था और कहा कि अगर आपको उस पत्रकार के खिलाफ कोई भी एक्शन लेना है तो बीसीसीआई आपके साथ है। मैंने उनसे कहा कि फिलहाल मैं तैयार नहीं हूं।”

Leave a comment

Cancel reply