विश्व कप 2019 की शुरुआत कुछ ही महीनों में होने वाली हैं. इस विश्व कप में भारतीय क्रिकेट टीम को जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. विशेषज्ञों की मानें तो टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन इस बार टीम को फिर से खिताब दिला सकती है. टीम युवा जोश से भरी हुई है. साथ ही इस बार टीम की कमान विराट कोहली के हाथों में होगी.

वैसे तो टीम में हर एक खिलाड़ी की भूमिका अहम होती है, लेकिन गेंद और बल्ले दोनों से कमाल दिखाने वाले ऑलराउंडर की अहमियत काफी बढ़ जाती है. साल 2011 में युवराज सिंह ने टीम इंडिया के लिए ऑलराउंडर की भूमिका निभाई थी. इस दौरान युवराज ने टीम के लिए शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत को 28 सालों बाद एक बार फिर विश्व विजेता बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. युवराज ने साल 2011 के विश्व कप में खेले गए मुकाबलों में 362 रन बनाए थे.

इसके साथ ही गेंदबाजी में भी युवराज सिंह का जवाब नहीं था. किफायती गेंदबाजी करते हुए युवराज सिंह ने 15 विकेट अपने नाम किए थे. हालांकि अब युवराज सिंह टीम इंडिया से काफी वक्त से बाहर हैं और विश्व कप की टीम के लिए उनके चयन की उम्मीद न के बराबर है. ऐसे में सवाल यह उठता है कि इस बार युवराज की जगह टीम इंडिया में कौन ले सकता है, जिससे युवराज के जैसे ही प्रदर्शन की उम्मीद की जा सके.

तो ऐसे में फिलहाल दिमाग में सिर्फ हार्दिक पांड्या का ही नाम आता है. हार्दिक पांड्या टीम इंडिया में ऑलराउंडर की भूमिका में नजर आते हैं. फिलहाल आईपीएल 2019 में शुरुआती 5 मुकाबलों में हार्दिक फॉर्म में नजर आए हैं. मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए पांड्या ने अभी तक पांच टी-20 मुकाबलों में 102 रन बनाए हैं और साथ ही 4 विकेट भी अपने नाम किए हैं.

2019 में विश्वकप की शुरुआत 30 मई से इंग्लैंड की सरजमी पर होने वाली है. इंग्लैंड की धरती पर पांड्या से अच्छे खेल ही उम्मीद की जा सकती है, वहीं पीछे चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ हार्दिक पांड्या ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिया था. उस वक्त अपने खेल से पांड्या ने भारतीयों का दिल जीत लिया था. युवराज सिंह की तरह ही हार्दिक पांड्या भी गगनचुंबी छक्के लगाने में माहिर हैं. बल्ले के अलावा जरूरत के समय हार्दिक पांड्या ने गेंद से भी अपना कमाल दिखाया है. युवराज सिंह जहां छह गेंदों में छह छक्के लगा चुके हैं तो हार्दिक पांड्या भी कई बार 3 गेंदों में 3 छक्के लगा चुके हैं. मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हुए हार्दिक पांड्या इस बार विश्व कप में टीम इंडिया के लिए कमाल दिखा सकते हैं.

वहीं हार्दिक पांड्या के अभी तक के एकदिवसीय करियर की बात की जाए तो हार्दिक पांड्या ने 45 मैचों 29 पारियों में 731 रन स्कोर बनाए हैं, जिसमें उनका बेस्ट स्कोर 83 रन है. इसके साथ ही हार्दिक ने 36 छक्के भी अपने एकदिवसीय करियर में लगाएं हैं. गेंदबाजी की बात की जाए तो हार्दिक पांड्या ने 45 मैचों की 44 पारियों में 44 विकेट हासिल किए हैं.

Leave a comment

Cancel reply