इंग्लैंड और वेल्स की मेजबानी में 30 मई से शुरू हो रहे विश्व कप में भले ही पाकिस्तान की टीम को खिताब जीतने का प्रबल दावेदार ना माना जा रहा हो, लेकिन अपने समय के दिग्गज तेज रहे गेंजबाज वकार यूनिस का मानना है कि टीम 27 साल बाद एक बार फिर इंग्लैंड की घरती पर इतिहास रच सकती है।

पाकिस्तानी मीडिया को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, 1992 में जब हम विश्व कप खेलने के लिए इंग्लैंड गए थे तो हमें अंडरडॉग का टैग दिया गया था। टूर्नामेंट में हालात बदले और हमने शानदार प्रदर्शन किया। इस बार भी मुझे लगता है कि टीम इतिहास दोहरा सकती है।

पाकिस्तान टीम के कोच रह चुके वकार ने कहा, ”मैं टीम का हिस्सा नहीं था क्योंकि विश्व कप शुरू होने से पहले मैं चोटिल हो गया था। लेकिन मुझे याद है कि जब टीम घर आ रही थी तो पूरा देश सड़कों पर आ गया था। वो पल वाकई में यादगार था।

पाकिस्तान के लिए 262 वनडे मैचों में 416 विकेट ले चुके वकार ने आगे कहा, ”मुझे लगता है कि पाकिस्तान एक अंडरडॉग के रूप में वहां गया है और उन्हें अच्छी शुरुआत करने की जरूरत है। अगर वे शुरुआत में ज्यादातर मैच हार जाते हैं तो फिर इसके बाद उनके लिए आगे का काम मुश्किल हो जाएगा।”

Leave a comment

Cancel reply