hales bairstow crictoday

यह सच है कि क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है, लेकिन इसमें कई बार ऐसे बड़े-बड़े रिकॉर्ड्स भी बन जाते हैं, जो अगले कई दशकों तक कायम रहते हैं. साल 2018 में आज ही के दिन यानी आज से 3 साल पहले इंग्लैंड ने एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर बनाया था. यह विशाल टोटल उन्होंने मजबूत ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ कायम किया था.

19 जून को नॉटिंघम में खेले गए इस ऐतिहासिक मैच में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 481 रनों का स्कोर खड़ा किया था. मेजबानों के लिए दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो (92 गेंद में 138 रन) और धाकड़ बल्लेबाज एलेक्स हैल्स (92 गेंद में 147 रन) ने शानदार शतक जड़े थे. बेयरस्टो ने 15 चौके और 5 छक्के जड़े तो हैल्स ने 16 चौके और 6 छक्के जमाए. दोनों ने कंगारू गेंदबाजों की बेरहमी से पिटाई लगाते हुए 41 गेंदों में 180 रन सिर्फ बाउंड्री से ही ठोंक डाले थे.

उनके अलावा इंग्लैंड की तरफ से सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय (82) और कप्तान ओइन मॉर्गन (67) ने भी शानदार अर्धशतक लगाए थे. इंग्लैंड के दिए 482 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम 37 ओवर खेलने के बाद 239 के स्कोर पर ही ढेर हो गई थी. साथ ही इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 242 रनों से रौंद दिया था. एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास में ऑस्ट्रेलिया की यह सबसे बड़ी हार थी.

कंगारुओं के लिए सलामी बल्लेबाज ट्रेविस हेड (51) ने सर्वाधिक रन बनाए थे. अंग्रेजों की तरफ से दिग्गज लेग स्पिनर आदिल रशीद ने 4, ऑफ स्पिनर मोइन अली ने 2 और तेज गेंदबाज डेविड विली ने 2 विकेट झटके थे. इस वनडे मैच में दोनों टीम की तरफ से कुल 720 रन बने थे.

Leave a comment

Cancel reply