ravi shastri
रवि शास्त्री को क्यों बनाया गया टीम इंडिया का हेड कोच?

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर रवि शास्त्री को 11 जुलाई 2017 को टीम इंडिया का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था, जिसके बाद से वे अब तक इस टीम का मार्गदर्शन कर रहे हैं. उनकी कोचिंग में इंडियन टीम ने ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका, जैसे मजबूत टीम्स को उन्ही की सरज़मीं पर पटखनी देकर इतिहास रचा था. मालूम हो कि इससे पहले वे 2014 से 2016 तक टीम के डायरेक्टर के रूप में काम कर चुके हैं.

वहीं, दूसरी तरफ क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) के पूर्व सदस्य अंशुमान गायकवाड़ ने रवि शास्त्री को फिर से भारतीय टीम के हेड कोच बनाए जाने के कारण का खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि शास्त्री ने क्रिकेट को न केवल एक देश, बल्कि विश्व क्रिकेट को बहुत करीब से देखा था.

अंशुमान गायकवाड़ ने कहा, “देखिए, कोचिंग के लिए मैदान में रहने वाले अन्य लोगों के बीच रवि को एक फायदा हुआ. मैं, कपिल देव और शांता हमने सेलेक्शन किया. वह कमेंटेटर होने के कारण क्रिकेट के संपर्क में थे. उन्होंने क्रिकेट को न केवल एक देश का बल्कि विश्व क्रिकेट को बहुत करीब से देखा था.”

उन्होंने आगे कहा, “वे जानते थे कि चीजें कैसे चलती हैं. वह जानते थे कि मैच और परिस्थितियां कैसे बदल जाती हैं. इसे करने के लिए कोई क्या करता है? वह संपर्क में थे और भारतीय खिलाड़ियों को अच्छी तरह जानते थे. साथ ही खिलाड़ी भी उन्हें अच्छी तरह से जानते थे.”

रवि शास्त्री के मार्गदर्शन में विराट सेना के द्विपक्षीय सीरीज में आंकड़े काफी शानदार हैं. हालांकि, उनकी कोचिंग में भारत ने एक भी आईसीसी का मुख्य खिताब नहीं जीता है. इस साल आईसीसी टी20 विश्व कप का आयोजन होने वाला है और ऐसे में अगर टीम इंडिया के पिछले 8 साल के रिकॉर्ड पर नज़र डालें तो वे आईसीसी के मुख्य टूर्नामेंट्स में ‘चोकर्स’ साबित हुए हैं.

Leave a comment

Cancel reply