पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज वकार यूनिस का मानना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच टेस्ट के बिना ICC वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप बेमानी है. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में नौ शीर्ष रैंकिंग वाली टेस्ट टीमें शामिल हैं, जो जून 2021 में इंग्लैंड में होने वाले फाइनल में लीग के अंत में सबसे अधिक अंक के साथ शीर्ष दो राष्ट्रों के साथ परस्पर चुने हुए विरोधियों के खिलाफ छह द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज खेलेगी.

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में नौ शीर्ष रैंकिंग वाली टेस्ट टीमें शामिल हैं, जो अपने चुने हुए प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ छह द्विपक्षीय सीरीज खेलेंगी. आखिर में शीर्ष पर रहने वाली दो टीमें जून 2021 में इंग्लैंड के लॉर्ड्स मैदान पर फाइनल मुकाबला खेलेंगी.

वकार यूनिस ने यूट्यूब चैनल ‘क्रिकेटबाज’ को दिए इंटरव्यू में कहा, “पाकिस्तान और भारत के लिए सरकार के स्तर पर भी स्थिति मुश्किल है, लेकिन ICC इस मैच के लिए अधिक सक्रिय भूमिका निभा सकती है.” उन्होंने कहा, “आईसीसी को दखल देकर कुछ करना चाहिए, क्योंकि भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबले के बिना टेस्ट चैंपियनशिप के कोई मायने नहीं है.”

वकार ने कहा कि दोनों देशों के तनावपूर्ण संबंधों के कारण वह अपने 14 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में भारत के खिलाफ महज चार टेस्ट ही खेल पाए. इसके अलावा वकार ने भारत के मौजूदा तेज गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा, ”पहले ऐसा नहीं था लेकिन अब हालात बदल गए हैं. भारत के पास जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा जैसे उम्दा गेंदबाज हैं और यही वजह है कि भारत टेस्ट और अन्य प्रारूपों में अच्छा प्रदर्शन कर रहा है.” वकार के नाम 87 टेस्ट में 373 विकेट हैं, जबकि 262 ODI में 416 विकेट हैं.

Leave a comment

Cancel reply