विराट कोहली और केन विलियमसन की प्रशंसा करते हुए दोनों को दुनिया का सबसे महान बल्लेबाज है।

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान डेविड गॉवर ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल से पहले विराट कोहली और केन विलियमसन की प्रशंसा करते हुए दोनों को दुनिया का सबसे महान बल्लेबाज बताया है। गॉवर ने इंग्लैंड के लिए 117 टेस्ट और 114 वनडे मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने क्रमश: 8231 और 3170 रन बनाए। उनका नाम इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से गिना जाता है।

64 साल के पूर्व बाएं हाथ के बल्लेबाज ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में आगामी आईसीसी डब्ल्यूटीसी फाइनल पर कहा, “हम जानते हैं कि इस समय दुनिया के दो सबसे महान बल्लेबाज हैं, जो विराट कोहली और केन विलियमसन हैं। आपके पास दो बहुत अच्छी प्रतिस्पर्धी वाली टीम्स हैं। इसलिए इसे मैं एक उचित टेस्ट मैच कहता हूं।”

पूर्व इंग्लिश क्रिकेटर ने कहा, “हम दो बहुत अच्छी टीम्स के बीच फाइनल खेलते हुए देखेंगे। साउथेम्प्टन के मैदान को जानने के बाद, मुझे उम्मीद है कि यह एक उचित खेल और एक उचित टेस्ट मैच होगा। वहीं, जब भी लोग टेस्ट मुकाबलों के लिए परिस्थितियों के बारे में बात करते हैं तो आप कुछ ऐसा देखना चाहते हैं, जो गेंदबाजों, बल्लेबाजों और स्पिनर्स सबके पक्ष में हो। वह सभी मुकाबलों के लिए टेम्पलेट है और मुझे लगता है कि साउथेम्प्टन की पिच अच्छी होगी।”

डेविड गॉवर ने रोज बाउल मैदान की पिच के बारे में बात करते हुए कहा, “मुझे लगता है कि वे कोशिश करेंगे और एक ऐसी पिच तैयार करेंगे, जो खेल की स्थिति को दर्शाएगी और दोनों टीम्स को सभी पहलुओं का उपयोग करने का मौका देगी।” उन्होंने आगे कहा, “भारत ने कुछ मुकाबले अपने स्पिनर्स के दम पर जीते हैं, लेकिन जब परिस्थितियां अलग होती हैं तो कुछ भारतीय तेज गेंदबाज भी बेहतरीन प्रदर्शन करते हैं।”

Leave a comment