विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम को न्यूजीलैंड के विरुद्ध 18 जून से आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021 का फाइनल खेलना है।

विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम को न्यूजीलैंड के विरुद्ध 18 जून से आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021 का फाइनल खेलना है। यह खिताबी मुकाबला साउथेम्प्टन के रोज बाउल में खेला जाएगा। इस मैच में अब सिर्फ 10 दिन का समय बचा है। दुनियाभर के क्रिकेट फैंस डब्ल्यूटीसी फाइनल का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। इस मैच के लिए टीम इंडिया ने, जहां मैदान पर पसीना बहाना शुरू कर दिया है तो वहीं कीवी टीम इंग्लैंड के विरुद्ध दो टेस्ट मुकाबलों की टेस्ट सीरीज खेल रही है।

भारत इस मैच के बाद इंग्लैंड के खिलाफ पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज भी खेलेगा। इसी बीच खबर आ रही है कि लंबी सीरीज के चलते डब्ल्यूटीसी के फाइनल मुकाबले के बाद भारतीय टीम को कड़े बायो बबल से 20 दिन की मोहलत मिलेगी।

टीम मैनेजमेंट के एक सूत्र ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए कहा, “यह एक वेलकम ब्रेक है। इसका निर्णय इसलिए लिया गया है, क्योंकि पूरी टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ आगामी पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज के दौरान काफी समय तक बायो बबल में रहेगी। इतना ही नहीं इसके बाद लगभग अधिकतर खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग 2021 खेलने के लिए यूएई जाएंगे। इस ब्रेक की शुरुआत 24 जून से होगी, जिसके बाद पूरी टीम को 14 अगस्त से एक बार फिर से कड़े बायो बबल से गुजरना होगा।”

उन्होंने आगे कहा, “देखो यह आसान है। खिलाड़ियों को स्विच ऑफ और आराम करने की ज़रूरत है, लेकिन हम इस बात को नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते कि कोविड-19 अभी भी पूरी तरह से नहीं गया है। इसलिए दौरे की योजना इस तरह से बनानी होगी कि खिलाड़ी और उनके परिवार इंग्लैंड में ब्रेक लेते समय कहीं फंसें नहीं। कल्पना कीजिए कि किसी दूसरे देश में जा रहे हैं और फिर मामलों में अचानक वृद्धि के कारण उस स्थान पर यात्रा प्रतिबंध लग जाता है। आप नहीं चाहते कि आपके खिलाड़ी या उनके परिवार फंस जाएं। इसलिए, हम यूके में स्थानों को देख रहे हैं।”

Leave a comment