Rohit Sharma
राष्ट्रीय टीम और किसी फ्रेंचाइजी के लिए खेलने में काफी का अंतर होता है, हिटमैन की युवा खिलाड़ी को लेकर टिप्पणी

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा को टी20 आई फॉर्मेट में कप्तानी की जिम्मेदारियों से मुक्त कर देना चाहिए, जिससे वो अपना वर्कलोड ज्यादा बेहतर तरीके से मैनेज कर सकें।

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू में 43 साल के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज ने कहा, “अगर भारतीय टीम मैनेजमेंट के दिमाग में टी20 फॉर्मेट में कप्तानी करने के लिए कोई और नाम है, तो रोहित शर्मा को इस जिम्मेदारी से मुक्त कर देना चाहिए।

सहवाग ने टी20 फॉर्मेट में कप्तान बदलने से होने वाले फायदे भी गिनाए। उन्होंने कहा, “पहला, यह रोहित को उनका वर्कलोड मैनेज करने और मानसिक थकान दूर करने में सहायता करेगा। दूसरा, एक बार अगर टी20 में किसी और को कप्तान बना दिया जाता है, तो रोहित को एकदिवसीय और टेस्ट में कप्तानी करने के लिए ब्रेक मिल जाएगा, जिससे वो खुद को एक बार फिर से टीम का नेतृत्व करने के लिए तैयार कर सकेंगे।”

हालांकि, सहवाग ने ये भी माना कि रोहित अभी भी तीनों फॉर्मेट में कप्तानी करने के लिए आदर्श खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा, “अगर भारतीय टीम मैनेजमेंट पुरानी पॉलिसी के हिसाब से चलना चाहती है, जिसमें तीनों फॉर्मेट का एक ही कप्तान होता है, तो मुझे अभी भी भरोसा है कि रोहित शर्मा इसके लिए सर्वश्रेष्ठ इंसान हैं।”

Q. वीरेंद्र सहवाग ने इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास कब लिया?

A. 20 अक्टूबर 2015

Leave a comment

Cancel reply