टीम इंडिया के युवा सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल को इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में चुना गया है। हाल ही में गिल ने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की है। इसके बाद भी सेलेक्टर्स ने उन पर भोरसा जताते हुए उनका टीम में चयन किया है। इसी बीच भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने शुभमन की खराब फॉर्म को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। गावस्कर को लगता है कि युवा बल्लेबाज से उम्मींदें बढ़ गई हैं और इसी के चलते उनके प्रदर्शन में गिरावट आई है।

71 साल के पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने स्टार नेटवर्क से बातचीत करते हुए कहा, “मैं समझता हूं शुभमन गिल पर अचानक से उम्मीदों का दबाव बढ़ गया है। इससे पहले यह अलग था। वे सिर्फ एक युवा और होनहार थे, लेकिन ऑस्ट्रेलिया में अच्छे प्रदर्शन के बाद उनसे उम्मीदें काफी बढ़ गई हैं। शायद इसी वजह से गिल स्कोर नहीं कर पा रहे हैं।”

दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने आगे कहा, “गिल को आराम करने की जरूरत है। वे अभी सिर्फ 21 साल के हैं। इस दौरान विफलताएं भी आएंगी और वे इससे सीखेंगे भी। उन्हें उम्मीदों की परवाह किए बगैर खुलकर खेलना चाहिए। अगर वे अपना स्वाभाविक गेम खेलेंगे, तो रन अपने आप बनेंगे। अच्छा करने के दबाव की वजह से वे लाइन से हटकर रन बनाने की कोशिश कर रहे हैं। इसी वजह से वे आउट हो रहे हैं।”

21 साल के दाएं हाथ के बल्लेबाज ने पिछले ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर टेस्ट प्रारूप में डेब्यू किया था। उन्होंने डेब्यू टेस्ट सीरीज में 259 रन बनाए थे और इस दौरान 2 अर्धशतक भी शामिल थे। गिल ने मेलबर्न, सिडनी और ब्रिस्बेन टेस्ट में टीम को बेहतरीन शुरुआत दिलाई थी, लेकिन उस दौरे के बाद उनकी फॉर्म बहुत खराब हो गई। गिल ने इंग्लैंड के विरुद्ध चार मुकाबलों की घरेलू टेस्ट सीरीज में केवल एक अर्धशतक जड़ा था।

हाल में स्थगित हुए आईपीएल 2021 में शुभमन गिल केकेआर के लिए अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए। गिल ने 7 मुकाबलों में 18.85 के खराब औसत से 132 रन बनाए। वहीं, पिछले साल गिल ने आईपीएल में 14 मुकाबलों में 33.84 के औसत से 440 रन बनाए थे, जिसमें तीन अर्धशतक शामिल थे।

Leave a comment