SL vs IND: वनडे में पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया को पीछे छोड़ इतिहास रच सकती है टीम इंडिया.

भारतीय टीम किसी भी एक विरोधी टीम के विरुद्ध एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा जीत दर्ज करने का रिकॉर्ड अपने नाम कर सकती है. बता दें की इस समय भारत, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया इस मामले में संयुक्त रूप से पहले स्थान पर हैं. तीनों ही देशों ने अभी तक किसी भी एक विपक्षी टीम के खिलाफ वनडे में 92 जीत दर्ज की हैं.

बता दें कि नीली जर्सी वाली टीम ने रविवार को तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज के पहले मैच में श्रीलंका को 7 विकेट से पराजित कर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की. भारत की वनडे में यह श्रीलंका के खिलाफ 92वीं जीत थी. सीरीज का दूसरा मैच मंगलवार को खेला जाएगा, जहां मेहमानों के पास एकदिवसीय क्रिकेट में इतिहास रचने का मौका होगा.

भारत ने न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के विरुद्ध भी 55-55 मैच में जीत दर्ज की है. इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत का जीत-हार का रिकॉर्ड 53-80 है. पाकिस्तान के विरुद्ध यही रिकॉर्ड 55-73 का है. ऐसे में अगर भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ 93वीं जीत दर्ज करती है तो यह विश्व रिकॉर्ड हो जाएगा.

कोलंबो के आर प्रेमदासा मैदान में खेले गए पहले मुकाबले में श्रीलंका ने भारत के सामने 263 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे मेहमानों ने 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया. पृथ्वी शॉ ने शिखर धवन के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 58 रनों की साझेदारी निभाई. शॉ ने अपनी पारी में 24 गेंदों का सामना करते हुए 9 चौकों की मदद से 43 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली. वहीं, कप्तान शिखर धवन ने 86* रनों की मैच जिताऊ पारी खेली.

बाएं हाथ के स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन ने भारत के लिए डेब्यू करते हुए अपने पहले वनडे मैच में शानदार अर्धशतक लगाया. ऐसे में ईशान को भारतीय चयनकर्ताओं ने जन्मदिन पर स्पेशल गिफ्ट दिया. वे अपने बर्थडे के दिन एकदिवसीय क्रिकेट में डेब्यू करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी बने. उनसे पहले अपने बर्थडे पर डेब्यू करने वाले गुरशरण सिंह थे, जिन्होंने 8 मार्च 1990 को ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध हैमिल्टन में अपना पहला और आखिरी वनडे मुकाबला खेला था.

Leave a comment