शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी और आईपीएल 2021 में अपनी तूफानी बल्लेबाजी से जबरदस्त प्रदर्शन किया था।

भारत और श्रीलंका के बीच तीन मुकाबलों की एकदिवसीय सीरीज का आगाज 18 जुलाई से होगा। शिखर धवन की कप्तानी वाली 20 सदस्यीय टीम में कई युवा खिलाड़ियों को मौका मिला है और इन खिलाड़ियों के लिए खुद को साबित का यह सुनहरा अवसर है। भारत के लिए टेस्ट प्रारूप में डेब्यू कर चुके पृथ्वी शॉ अब सीमित ओवर क्रिकेट में अपना जलवा दिखाने को तैयार हैं।

शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी और आईपीएल 2021 में अपनी तूफानी बल्लेबाजी से जबरदस्त प्रदर्शन किया था। उनके पास श्रीलंका दौरे पर बेहतरीन परफॉरमेंस देकर आगामी टी20 विश्व कप के लिए टीम में अपनी जगह पक्की करने का अच्छा मौका होगा। शॉ भी इस मौके का भरपूर फायदा उठाना चाहते हैं। हाल ही में उन्होंने इस सीरीज को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

21 साल के दाएं हाथ के युवा बल्लेबाज ने स्टार स्पोर्ट्स’ के शो पर बातचीत करते हुए कहा, “अगर आप मुझसे निजी तौर पर पूछेंगे तो बिलकुल मैं इस मौके का फायदा उठाना चाहता हूं, क्योंकि मुझे यह मौका काफी लंबे समय बाद मिला है। यही मेरे दिमाग में चल रहा है, जब मैं भारत के लिए या किसी और टीम के लिए खेलता हूं तो मैं अपनी टीम को सबसे आगे रखता हूं तो जाहिर तौर पर मैं इंडिया के लिए यह सीरीज जीतना चाहता हूं।”

यह भी पढ़ें | धोनी-कोहली और पंत की नकल करते दिखे कुलदीप, BCCI ने शेयर ‘कुलचा’ की मजेदार वीडियो

बता दें कि पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी 2020-21 में शानदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने 50 ओवर के घरेलू टूर्नामेंट में 800 से अधिक रन जड़े थे और इसी के साथ वे घरेलू टूर्नामेंट के एक सीजन में ऐसा कारनामा करने वाले पहले बल्लेबाज बने थे। इसके बाद शॉ ने आईपीएल 2021 के पहले चरण में भी तूफानी बल्लेबाजी करते हुए 8 मुकाबलों में 308 रन बनाए।