भारतीय टीम को आईसीसी का हर एक मुख्य खिताब दिलाने वाले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस पर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर सभी फैंस को चौंका दिया था. धोनी पिछले 13 महीनों से क्रिकेट में सक्रिय नहीं हैं. वहीं, दूसरी तरफ माही के रिटायरमेंट के फैसले को लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज इंज़माम उल हक ने बड़ा बयान दिया है. इंजमाम का मानना है कि धोनी को इस तरह से नहीं बल्कि क्रिकेट के मैदान में फैंस के बीच संन्यास लेना चाहिए था. साथ ही उन्होंने धोनी की तारीफ भी की है. बता दें कि धोनी ने 15 अगस्त को शाम 7 बजकर 29 मिनट पर सोशल मीडिया पर एक मैसेज के ज़रिए क्रिकेट को अलविदा कहा.

दाएं हाथ के पूर्व दिग्गज ने कहा, “धोनी के दुनिया भर में लाखों प्रशंसक हैं, जो उन्हें मैदान पर खेलते देखना चाहते हैं. मैं समझता हूं कि इस तरह के कद के खिलाड़ी को घर बैठे ही संन्यास नहीं लेना चाहिए. उन्हें क्रिकेट के मैदान से रिटायरमेंट की घोषणा करनी चाहिए थी.”

धोनी को लेकर हुए कई बड़े खुलासे

पूर्व दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के बाद कई बड़े खुलासे हुए हैं. आईसीसी विश्व कप 2019 में टीम इंडिया की हार के बाद धोनी बाथरूम में जोर-जोर से रोए थे. इतना ही नहीं धोनी अब सेना के साथ ज़्यादा टाइम बिताएंगे. यहां तक कि धोनी क्रिकेट का बल्ला छोड़ खेती और पशु पालन भी करेंगे.

Leave a comment

Cancel reply