आईपीएल की गजब की लोकप्रियता के बावजूद, जब आईपीएल फ्रेंचाइजी का मुनाफा या ब्रैंड वेल्यू को देखें तो इस मामले में विश्व की अन्य दूसरी लीग की टीमों से ये बहुत पीछे है। इसकी एक सबसे बड़ी वजह है इनका सीमित दायरा। बीसीसीआई ने आईपीएल टीमों को अभी तक भारत से बाहर अपने किसी टूर पर जाने या किसी और टूर्नामेंट में खेलने की इजाजत नहीं दी है। कई आईपीएल टीम ऐसी हैं जिसके मैच गल्फ, वेस्टइंडीज या अमेरिका (कनाडा) में बड़े लोकप्रिय साबित होंगे।

बहरहाल, आईपीएल फ्रेंचाइजी पर फैला रहे हैं। वे दूसरे देशों की क्रिकेट में अपनी पहचान अलग तरीके से बना रहे हैं। नई खबर ये है कि किंग्स इलेवन पंजाब ने कैरेबियन प्रीमियर लीग की सेट लूशिया फ्रेंचाइजी को खरीद लिया है और इस तरह से कैरेबियन प्रीमियर लीग को दूसरा टीम मालिक मिल गया आईपीएल से। शुरूआत की शाहरूख खान की कोलकाता नाइट राइडर्स ने त्रिनिदाद एंड टेबेगो फ्रेंचाइजी को खरीदकर और अब उनके साथ हैं किंग्स इलेवन पंजाब। संयोग से इन दोनों आईपीएल फ्रेंचाइजी के मालिकों में सबसे लोकप्रिय और पहचाना जाने वाला चेहरा बॉलीवुड फिल्म स्टार का है। किंग्स इलेवन के साथ जुड़ी हैं प्रीटि जिंटा, जो शाहरूख के साथ कई फिल्म में काम कर चुकी हैं।

नाइट राइडर्स ने टीम खरीदी थी 2015 में और इसे नया नाम दिया त्रिनबेगो नाइट राइडर्स का। शाहरूख ने तो ये भी कोशिश की कि वे भारत में अपनी आईपीएल टीम को कैरेबियन टूर पर ले जाएं और अपनी कैरेबियन टीम के साथ मैचों की एक सीरीज खेलें पर भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने इसकी मंजूरी नहीं दी। उनकी वह नाइट राइडर्स टीम भी बड़ी कामयाब है और कीरोन पोलार्ड, डेरन ब्रावो, लैंडल सिमंस, ड्वेन ब्रावो, कोलिन मुनरो, सुनील नरैन तथा दनेश रामदीन जैसे खिलाड़ी भी इस टीम के लिए खेलते हैं। हालत ये है कि पिछले साल की कैरेबियन प्रीमियर लीग के दौरान त्रिनबेगो नाइट राइडर्स के एक मैच में उनकी किट में डग आउट में बैठे कोलकाता नाइट राइडर्स के क्रिकेटर दिनेश कार्तिक की फोटो वायरल हुई तो बोर्ड ने दिनेश कार्तिक को ही इस पर नोटिस दे दिया था। बेचारे दिनेश कार्तिक को जान बचाने के लिए माफी मांगनी पड़ी थी।

किंग्स इलेवन पंजाब ने कितना पैसा खर्च किया, इस तरह की बातें तो अभी सामने नहीं आई हैं। हाल-फिलहाल आईपीएल फ्रेंचाइजी होने के नाते उन्होंने भारतीय क्रिकेट बोर्ड से मंजूरी मांगी है। सेंट लूशिया जोक्स के नाम से खेलती है ये टीम कैरेबियन प्रीमियर लीग में और अब तक का रिकॉर्ड देखें तो कोई खास कामयाब टीम नहीं है। डैरेन सैमी की कप्तानी में पिछले सीजन में वे 6 टीम की लीग में पांचवें नंबर पर रहे थे। उनका अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन 2016 का है जब वे चौथे नंबर पर रहे थे। 2016 से 2019 तक इस टीम का नाम सेंट लूशिया स्टार्स था।

इस समय टीम के सबसे मशहूर क्रिकेटरों के तौर पर कोलिन इनग्राम, डैरेन सैमी, नजीबुला जादरन, रखीम कोर्नवॉल, थिसारा परेरा, कोलिन डी ग्रांडहोम, निरोशन डिकवेला और लसिथ मलिंगा का नाम लिया जा सकता है।

पिछले फ्रेंचाइजी की खस्ता हालत देखकर, एक बार तो नौबत ये आ गई थी कि सेंट लूशिया फ्रेंचाइजी का पत्ता ही काट दिया गया था लीग से। पहले दो सीजन में 14 में से सिर्फ 4 मैच जीते। पैसा भी नहीं कमाया। सरकार की पहल से सेंट लूशिया का लीग में नाम बचा रहा। अब भी सरकार ने ही मदद की और किंग्स इलेवन को बेहतर सुविधाओं का वायदा वे ही कर रहे हैं। उन्हें उम्मीद है कि भारतीय नाम जुड़ने से सेंट लूशिया को भी चर्चा मिलेगी और भारत से टूरिस्ट आएंगे खूबसूरत बीच और नजारे देखने।

Leave a comment