सचिन तेंदुलकर के बेटे महेंद्र सिंह धोनी को चाहिए शिक्षक की नौकरी!

छत्तीसगढ़ में एक तरफ, जहां 14850 शिक्षकों की भर्ती की अटकी हुई प्रक्रिया के लिए अभ्यर्थी आंदोलन कर रहे हैं तो वहीं, दूसरी ओर एक अजीबोगरीब मामला प्रकाश में आया है. राजधानी रायपुर में शिक्षक के पद के लिए महेंद्र सिंह धोनी ने आवेदन किया है. हैरान करने वाली बात यह है कि आवेदक ने पिता का नाम सचिन तेंदुलकर बताया है.

सबसे बड़े ताज्जुब की बात यह है कि अधिकारीयों ने तथाकथित महेंद्र सिंह धोनी का नाम साक्षात्कार के लिए शोर्टलिस्ट कर लिया. मामले का खुलासा तब हुआ, जब आवेदक शुक्रवार को इंटरव्यू के लिए नहीं पहुंचा. आवेदक ने खुद को रायपुर निवासी बताया है. इसके बाद अधिकारीयों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी. अब पुलिस इस मामले की जांच करेगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी के नाम से भरे गए इस आवेदन में संबंधित ने खुद के छत्रपति वीर शिवाजी टेक्निकल यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन करने का उल्लेख किया है. इतना ही नहीं, उसकी कट ऑफ 98 प्रतिशत से अधिक है. इस हिसाब से वह इंटरव्यू की लिस्ट में सबसे ऊपर था.

अब यह सवाल उठता है कि चयन प्रक्रिया के लिए ज़िम्मेदार अधिकारियों ने इस फर्जी आवेदन को इंटरव्यू के लिए कैसे शोर्टलिस्ट कर लिया. क्या अधिकारियों को यह मालूम नहीं था कि महेंद्र सिंह धोनी के पिता का नाम पान सिंह है, सचिन तेंदुलकर नहीं. क्या भारत के इन दो महान क्रिकेटर्स के बारे में यहां किसी को जानकारी नहीं थी. आवेदकों को शॉर्टलिस्ट करने से पहले जांच की गई तो यह गलती कैसे हुई. सवाल कई हैं, अगर इनका जवाब है तो फिर किसके पास.

Leave a comment