भारतीय क्रिकेट चयनकर्ताओं ने हाल ही में आगामी विश्व कप के लिए अपनी मजबूत 15 सदस्यीय टीम का ऐलान किया था, जिसमें कई खिलाड़ियों को जगह नहीं मिल पाई. उन्ही में युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत का नाम भी शामिल है. पंत ने वर्ल्ड कप की टीम में चयन न होने पर कहा कि पेशेवर खिलाड़ियों को असफलता से लड़ना आना चाहिए. इसके अलावा उन्होंने कहा कि वो अभी काफी युवा हैं समय के साथ-साथ उनमें भी परिपक्वता आएगी.

पंत के अनुसार, “जब आपका चयन नहीं होता है तो बुरा लगता है. मैं इसका आदी हूं, लेकिन बतौर पेशेवर खिलाड़ी आपको इस तरह की चीजों के साथ निपटना आना चाहिए.”

उन्होंने कहा, “चीजें हमेशा वैसी नहीं होंगी जैसा आप चाहते हैं, जब चीजें आपके पक्ष में ना जा रही हों तो आपको सकारात्मक रहने का तरीका ढूंढना होता है. जरूरी चीज है कि आपको पता होना चाहिए कि आगे कैसे बढ़ना है.”

बाएं हाथ के विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, “मैं केवल 21 साल का हूं, 30 साल के शख्स की तरह सोचना मुश्किल है. समय के साथ मेरा दिमाग मजबूत होगा और परिपक्वता आएगी.”

Leave a comment

Cancel reply