इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रीम स्वान ने किंग कोहली का बचाव किया है।

न्यूजीलैंड के विरुद्ध आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले में मिली हार के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली की कड़ी आलोचना हो रही है। सोशल मीडिया पर अधिकतर लोग कोहली को कप्तान के पद से हटाने की बात कर रहे हैं। एक भी आईसीसी खिताब नहीं जीत पाने के चलते उन्हें घेरा जा रहा है। इसी बीच इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रीम स्वान ने किंग कोहली का बचाव किया है।

स्वान ने स्पोर्ट्सकीड़ा से बातचीत करते हुए कहा, “विराट कोहली बेशक एक चैंपियन और सुपरस्टार हैं। उन्होंने टीम इंडिया को बहुत मजबूत बनाया है, जब भी कोई विकेट गिरता है तो उनके चेहरे पर जोश साफ दिखाई देता है। वहीं, कोई मिसफील्ड होती है तब उनके चेहरे के भाव बदल जाते हैं।”

यह भी पढ़ें | रविंद्र जडेजा पर फिर बरसे संजय मांजरेकर

42 साल के दाएं हाथ के ऑफ स्पिनर ने आगे कहा, “वे अपने काम के प्रति 100 प्रतिशत समर्पित हैं। इस समय विराट कोहली को कप्तानी से हटाना, जब आपके पास इतना बेहतरीन कप्तान हैं, यह क्रिकेट के प्रति अपराध होगा। मुझे नहीं लगता कि उन्हें कहीं और देखने की जरूरत है। भारत मैच इसलिए हारा, क्योंकि उनकी तैयारी इस मैच के लिए पूरी नहीं थी।”

किंग कोहली की कप्तानी पर तो सवाल उठ ही रहे हैं साथ ही उनकी बल्लेबाजी को लेकर भी आलोचना हो रही है। विराट ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल की पहली पारी में 44 रन बनाए थे, जबकि दूसरी पारी में वे मात्र 13 रन बनाकर आउट हो गए थे। कोहली को दोनों पारियों में कीवी तेज गेंदबाज काइली जैमीसन ने आउट किया था। आईसीसी टूर्नामेंट्स के फाइनल मुकाबलों पर नज़र डालें तो कोहली का बल्ला खामोश ही रहा है। वे 2017 चैंपियंस ट्रोफी, 2019 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में भी दहाई का आंकड़ा नहीं पार कर पाए थे।