Laxmipathy Balaji
बालाजी के लिए कोरोना से उबरने का अनुभव Man vs Wild के एक एपिसोड की तरह रहा।

कोविड-19 की दूसरी लहर से आईपीएल 2021 भी बच नहीं पाया। चार टीम्स के खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के सदस्यों के इस खतरनाक वायरस से संक्रमित होने के बाद 4 मई को लीग को स्थगित कर दिया गया था। आईपीएल में शामिल जिन लोगों को कोरोना का संक्रमण हुआ था, उसमें चेन्नई सुपर किंग्स के गेंदबाजी कोच लक्ष्मीपति बालाजी और कोलकाता नाइट राइडर्स के स्पिनर वरुण चक्रवर्ती भी शामिल हैं। अब यह दोनों खिलाड़ी कोरोना से उबर चुके हैं।

लक्ष्मीपति बालाजी और वरुण चक्रवर्ती ने कोरोनावायरस से उबरने की अपनी लड़ाई का अनुभव साझा किया है। बालाजी के लिए कोरोना से उबरने का अनुभव Man vs Wild के एक एपिसोड की तरह रहा। 39 साल के पूर्व भारतीय पेसर की कोरोना रिपोर्ट 2 मई को पॉजिटिव आई थी और वे 14 मई को इसे उबरे, लेकिन उनके लिए यह 12 दिन बहुत मुश्किल भरे थे।

लक्ष्मीपति बालाजी ने ईएसपीएन क्रिकइंफो से बातचीत करते हुए कहा, “2 मई को मुझे थोड़ी बेचैनी महसूस हो रही थी। मुझे शरीर में दर्द था और नाक में हल्की रुकावट थी। उसी दिन दोपहर में मेरा कोरोना टेस्ट हुआ और अगले ही दिन मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। मैं घबरा गया था। मैंने अपनी और बायो-बबल की सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए तय प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं किया था।”

उन्होंने आगे कहा, “इसके बाद भी मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। मेरे साथ सीएसके सीईओ काशी विश्ननाथन और सपोर्ट स्टाफ के एक सदस्य भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे। ये देखने के लिए रिपोर्ट फाल्स निगेटिव है। हमारा अगले दिन फिर टेस्ट हुआ, लेकिन दूसरी बार भी मेरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद मुझे होटल के दूसरे फ्लोर पर शिफ्ट कर दिया गया था।”

बालाजी ने आगे कहा, “शुरू में तो मुझे कुछ समझ नहीं आया, लेकिन आइसोलेशन के दूसरे दिन मुझे लगा कि खुद भी अपने सेहत पर नजर रखनी चाहिए। मैंने अपने हेल्थ डेटा को रिकॉर्ड करना शुरू किया। मुझे उन लोगों के लिए भी डर लग रहा था, जो बीते दिनों मेरे संपर्क में आए थे। इसमें चेतेश्वर पुजारा, दीपक चाहर, रॉबिन उथप्पा शामिल थे। इसके बाद मुझे जानकारी मिली कि माइकल हसी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। हम दोनों को टीम मैनेजमेंट ने एयर एंबुलेंस के जरिए 6 मई को चेन्नई भेज दिया था। 12 दिन अस्पताल में बिताने के बाद 14 मई को मैं घर लौटा।”

वहीं, वरुण चक्रवर्ती भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे, लेकिन अब वे पूरी तरह स्वस्थ हैं। उन्होंने कोविड-19 से लड़ाई में अपने अनुभव साझा करते हुए कहा, “मैं कोरोना से ठीक तो हो चुका हूं, लेकिन अभी भी मुझे कमजोरी महसूस हो रही है। मैं अभी घर पर ही हूं और अब तक ट्रेनिंग नहीं शुरू कर पाया हूं।”

Leave a comment

Cancel reply